छंजयार-चोखणा, सड़क दिख रही है…कहीं

घुमारवीं—छंजयार-चोखणा सड़क की हालत खस्ता है। सड़क पर पड़े बड़े-बड़े गड्ढों से यहां पर हादसे होने का भय रहता है। टूटी-फूटी सड़क पर चालकों को वाहन चलाना परेशानी का सबब बना  हुआ है। सड़क की खराब हालत होने के कारण यहां पर वाहन चलाना तो दूर लोगों को पैदल चलना भी मुश्किल हो रहा है। क्षेत्र के लोगों ने प्रशासन तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से सड़क की मरम्मत करके राहत देने की मांग की है। पहाड़ी पर बसे गांवों के लोगों की सुविधा के लिए बद्धाघाट-डंगार वाया छंजयार, चोखणा सड़क का निर्माण किया गया है। इस सड़क से बद्धाघाट, कसारू, छंजयार, छंदोह, जसवानी, मरयानी व चोखणा सहित अन्य गांवों की हजारों आबादी लाभान्वित होती है, लेकिन सड़क की मरम्मत न होने के कारण इसकी हालत खस्ता हो गई है। कसारू से लेकर छंजयार, छंदोह, जसवानी व चोखणा तक सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे पड़े हुए हैं।  इन गड्ढों के कारण वाहनों के कलपुर्जे टूट रहे हैं, जिससे वाहन मालिकों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। सड़क की हालत खस्ता होने के कारण चालक भी वाहन चलाने से गुरेज करते हैं। इससे इस सड़क से गुजरने वाले लोगों को दिक्कतें झेलनी पड़ती है। बताते चलें कि करीब 12 किलोमीटर लंबी बद्धाघाट से डंगार वाया छंदोह सड़क पर टायरिंग उखड़ चुकी है। पानी की निकासी को बनाई गई नालियां बंद हो गई हैं। सड़क पर गड्ढों का साम्राज्य बन गया है। उबड़-खाबड़ हो चुकी इस सड़क पर वाहन चलाना हादसों को न्योता दे रहा है। सड़क की हालत इतनी खराब है कि यहां पर दोपहिया वाहन चालकों को भी यहां से गुजरना मुश्किल हो रहा है। गड्ढों को बचाते समय कई दोपहिया वाहन चालक गिर कर घायल हो चुके हैं। जबकि बड़े वाहनों के कलपुर्जे टूट रहे हैं, जिससे वाहन मालिकों को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। रोड की हालत दुरुस्त न होने से वाहन चालकों तथा लोगों को दिक्कतें झेलनी पड़ रही है। क्षेत्र के लोगों ने प्रशासन तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से सड़क की हालत सुधारने की मांग की है। उधर, लोक निर्माण विभाग के एसडीओ शशिकांत ने बताया कि इस सड़क को नावार्ड के तहत चकाचक किया जाएगा। टेंडर होते ही सड़क को दुरुस्त करने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

You might also like