छह जिलों में 3150 जवान देंगे पहरा

पंचकूला – हरियाणा पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) मनोज यादव ने कहा कि रोहतक, सोनीपत, झज्जर, भिवानी, सिरसा और हिसार जिलों में मतगणना परिणामों की घोषणा के बाद शांति व कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय सशस्त्र अर्धसैनिक बलों की 10 अतिरिक्त कंपनियां मिली हैं। डीजीपी ने कहा कि पुलिस द्वारा 23 मई को हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनावों के वोटों की होने वाली गिनती के लिए कानून-व्यवस्था बनाए रखने हेतू व्यापक व प्रभावी प्रबंध किए गए हैं। राज्य भर में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए घोड़ा पुलिस भी तैनात की गई है। उन्होंने कहा कि स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम की सुरक्षा में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई है। प्रदेश में कुल 35 कंपनियां को मतगणना ड्यूटी पर लगाया गया है, जिसमें सेंट्रल पैरामिलिट्री की 23 और इंडियन रिजर्व बटालियन की 12 कंपनी शामिल हैं। इन कंपनियों में कुल 3150 सुरक्षाकर्मी होंगे। राज्य सशस्त्र पुलिस बल के अलावा, स्ट्रांग रूम के बाहर भारी संख्या में स्थानीय पुलिस बल भी तैनात किया गया है। जिला पुलिस प्रमुखों को मतगणना केंद्रों के बाहर व आसपास कड़ी सुरक्षा व्यवस्था करने के निर्देश देते हुए डीजीपी ने कहा कि कोई भी तत्व जो कानून व्यवस्था को बिगाड़ने व मतगणना प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश करेगा, उसके खिलाफ कानून अनुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। श्री यादव ने नागरिकों से आग्रह किया कि वे किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न दें। हरियाणा पुलिस बिना किसी भय के शांतिपूर्ण तरीके से मतगणना की प्रक्रिया को पूरा करवाना सुनिश्चित करेगी। उन्होंने मतगणना के दिन राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों तथा प्रदेश की जनता से भी सहयोग करने की अपील की । इसके अलावा उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया में दखल देने वालों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

You might also like