छह दिन तक पटरी से उतर जाएगी परिवहन व्यवस्था

रामपुर बुशहर—अगले छह दिनों ग्रामीणों के लिए खासे परेशानी वाले होने वाले है। 15 से 20 मई तक रामपुर डिपो की 89 बसें चुनाव ड्युटी पर है। यानि रामपुर के अधिकतर रूटों पर बसें नहीं चलेगी। ऐसे में लोगों को अपने गंतव्य तक पहंुचने का खुद इंतजाम करना पड़ेगा। रामपुर से विभिन्न रूटों पर चलने वाली बसों को चुनाव ड्युटी के कर्मियों को जिला शिमला के विभिन्न कोनों में भेजने के लिए बुधवार से भेजा जाएगा। बुधवार को रामपुर से 32 बसों को विभिन्न क्षेत्रों के लिए भेजा जाना है। 32 बसों के जाने से रामपुर डिपो के करीब 64 रूट प्रभावित होंगे। परिवहन डिपो से मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार को फिर से चुनाव डयुटी पर कर्मियों को भेजने का क्रम चलेगा। गुरुवार को रामपुर से 57 बसें बाहर जाएगी। जबकि 19 मई को फिर से 57 बसें विभिन्न क्षेत्रों को भेजी जाएगी। जबकि 20 मई को 34 बसें चुनाव ड्युटी पर होंगी। बसों का ये आंकड़ा बढ़ सकता है। डिपो प्रबंधन ने पहले ही साफ कर दिया है कि इन छह दिनों में परिहवन का रूटिंन का कार्य खासा प्रभावित रहेगा। ऐसे में जिन लोगों को इस बात की जानकारी नहीं है वह अब छ दिन के लिए सचेत हो जाए। डिपो का कहना है कि प्राइवेट बसों को विभिन्न रूटों पर सामान्य तौर से चलने की बात कही गई है। ताकि लोगों को कम परेशानी का सामना करना पड़े। रामपुर डिपो की तरफ से बुधवार को रोहडु, चौपाल, जुब्बल, ठियोग, मनाली, कुल्लू, शिमला व अन्य क्षेत्रों के लिए बसें भेजी जानी है। बसों के भेजने से जहां लोकल रूट प्रभावित होंगे वहीं लंबे रूट पर भी इसका असर पड़ सकता है। प्रबंधन ने कहा कि उन्होंने इस बात का ध्यान रखा है कि जो रूट काफी पंचायतों को कवर करता है वहां पर बसों को भेजने की कोशिश की जाएगी। ताकि लोगों को कम परेशानी हो। अगर जरूरत पड़ी तो अन्य बसों को भी चुनावी ड्युटी पर लगाया जा सकता है। ऐसे में जरूरी नहीं कि लंबे रूट प्रभावित नहीं हो सकते। परिवहन डिपो प्रबंधन नेे कहा कि अगले छह दिन लोग इस बात से भलि भांति वाकिफ हो जाए कि संपर्क सड़कों पर सरकारी बसें कम ही चलेगी।

You might also like