जांच में टल्ली टीचर दोषी साबित

एसडीएम ने उपायुक्त को भेजी रिपोर्ट, निबंलन तय

संगड़ाह – पीठासीन एवं पोलिंग अधिकारियों के प्रशिक्षण में शराब पीकर हंगामा करने का आरोपी शिक्षक एसडीएम द्वारा की गई प्रारंभिक जांच में कसूरवार पाया गया है। एसडीएम संगड़ाह एवं सहायक रिटर्निंग ऑफिसर अधिकारी राहुल कुमार द्वारा बुधवार देर सायं इस बारे उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सिरमौर को रिपोर्ट भेज दी गई। गुरुवार को इस रिपोर्ट के आधार पर उपायुक्त द्वारा शिक्षक का निलंबन किया जाना तय है। इससे पहले भी उपमंडल संगड़ाह में चुनाव ड्यूटी पर तैनात एक शिक्षक की राजनीतिक कार्यक्रम में शामिल होने की तस्वीरें वायरल होने के बाद उसे आयोग द्वारा निलंबित किया जा चुका है। संबंधित अधिकारियों के अनुसार बतौर पीठासीन अधिकारी चुनाव में नियुक्त बलिंद्र सिंह को ड्यूटी से हटाया जा चुका है। बता दें कि बुधवार को संगड़ाह में करीब 680 कर्मचारियों के चुनावी प्रशिक्षण के दौरान इस शिक्षक के हंगामे संबंधी खबर ‘दिव्य हिमाचल’ वेब टीवी पर प्रसारित होने के बाद संबंधित अधिकारी हरकत में आए। एसडीएम द्वारा शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए डीएसपी संगड़ाह को भी लिखा जा चुका है। उधर, पुलिस विभाग द्वारा ड्यूटी से कोताही बरतने तथा पीकर शांति भंग करने के आरोपी शिक्षक के खिलाफ  मंगलवार को ही भादंसं की धारा 290 व 510 के तहत एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। पुलिस द्वारा पांच हजार के निजी मुचलके अथवा जमानत पर शिक्षक को रिहा किया गया है। जांच पूरी होने तक उस शिक्षक का निलंबन तय समझा जा रहा है। एसडीएम संगड़ाह एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी रेणुकाजी राहुल कुमार ने बताया कि उनकी प्रारंभिक जांच में आरोपी शिक्षक पर शराब पीकर हंगामा करने के आरोप सही पाए गए हैं।  उपायुक्त सिरमौर को रिपोर्ट भेजी जा चुकी है।

You might also like