जीत….जोश और जश्न

धर्मशाला   —कांगड़ा जिला के हर विधानसभा क्षेत्र में भगवा परचम लहारा गया है। भाजपा ने पिछले रिकार्डों को भी ध्वस्त करते हुए सभी विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस का सूपड़ा साफ कर दिया है। कांग्रेस विधायकों वाले विधानसभा क्षेत्रों में भी मोदी की लहर सुनामी बन गई और भारी को भारी मतों की बढ़त मिली है। जिला के तीन विधानसभा क्षेत्रों में पालमपुर, फतेहपुर और कांगड़ा में कांग्रेस के विधायक थे। कांगड़ा सदर के विधायक पवन काजल स्वयं कांग्रेस के प्रत्याशी थे, लेकिन वह अपने हलके में भी कपूर की जीत का मार्जन कम नहीं कर पाए। कांगड़ा जिला में सर्वाधिक लीड शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से 36384 मतों की है।  लोकसभा चुनाव परिणामों को देखें तो यहां न तो कोई ओबीसी कार्ड चला और न ही अन्य कोई फैक्टर सामने दिखाई दे रहा है। अगर कुछ दिख रहा है तो वह मोदी फैक्टर ही है। कांगड़ा जिला की विधानसभा स्थिती पर नजर दौड़ाएं तो हर विधानसभा क्षेत्र में भारी बढ़त मिली है। जिला के दो विस क्षेत्र हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में हैं, वहीं भी अनुराग ठाकुर को भारी बढ़त मिली है। पवन काजल के घर यानि कांगड़ा विस से  23583, मतों की बड़ी बढ़त मिली है। इसके अलावा कांग्रेस विधायक आशीष बुटेल के विस क्षेत्र पालमपुर  से 19389 और कांग्रेस विधायक एवं पूर्व मंत्री सुजान सिंह पठानिया के विस क्षेत्र फतेहपुर से 31506 मतों की बड़ी बढ़त मिली है।

You might also like