जोत में गोबर-दारू की बोतलें

प्रशासन की अनदेखी से खूबसूरती पर ग्रहण, हर तरफ बिखरी बोतलें और आवारा पशुओं ने जमाया डेरा

चुवाड़ी -दुनिया भर में विख्यात पर्यटक स्थल चंबा जोत इन दिनों चंद लोगों की नामसमझी के चलते  बदनाम हो रहा है। चुवाड़ी से चंबा वाया जोत रोड पर गर्मियों में सैलानियों की खूब आमद है। झुलसते मैदानों से जब भी कोई सैलानी इस पर्यटक स्थल पर पहुंचता है, तो कुछ पल बिताना नहीं भूलता, लेकिन इन दिनों इस रमणीक स्थल पर हर ओर गंदगी के अंबार लगे हुए हैं। इससे जहां देश-दुनिया के सैलानी यहां से बुरा संदेश लेकर जा रहे हैं वहीं, स्वच्छता की मुहिम को भी गहरा धक्का पहुंच रहा है। ऐसे में स्वच्छता को लेकर जिला जिला प्रशासन भी कटघरे में है। क्यों जोत पर गंदगी फैलाने वालों को सबक नहीं दिया जा रहा। सबसे खराब हालत जोत के रेनशेल्टर की है। रेन शेल्टर पशुओं के गोबर से लबालब है। यहां कोई पल भर भी नहीं रुक सकता। इसी के आसपास मैदान में कहीं दारू और बीयर की खाली बोतलें पड़ी हुई हैं, तो कहीं मिनरल वाटर की। कहीं चिप्स के खाली रैपर हैं, तो कहीं कोल्ड ड्रिंक्स के खाली कैन। उम्मीद लिए आ रहे पर्यटक यहां मुसीबत में फंस रहे हैं। कोई अगर दारू की बोतलों और कूड़े से बचकर जगह तलाशता हैएतो खाली जगह पर गोबर के ढेर हैं। जो भी यहां आ रहा है वह सुकून कम और टेंशन ज्यादा लेकर जा रहा है। कुल मिलाकर इन दिनों जोत हर किसी का मूड खराब कर रहा है। अब लोग सवाल कर रहे हैं कि आखिर जोत पर आएं ही क्यों। 

सैलानी बोले, दोबारा नहीं आएंगे

दिल्ली से परिवार संग आई राघवन ने बताया कि जोत का बड़ा नाम सुना था। यहां इतनी गंदगी है कि वह न तो खुद यहां आना चाहेंगी न ही किसी और को आने के लिए प्रेरित करेंगी। चंडीगढ़ के राकेश ने बताया कि जोत पर आकर चंबा और हिमाचली को लेकर जैसा वह सोचते थे, वह सारा मुगालता दूर हो गया है। अगर हिमाचल सरकार और प्रशासन चाहतेएतो इस पर्यटक स्थल की इतनी दुर्दशा नहीं होती। वह कभी जोत नहीं आएंगे। कांगड़ा के अजय ने बताया कि जोत पर पैर रखने को जगह नहीं है। हर जगहगोबर है। 

You might also like