झलक पाने को हर कोई दिखा बेताव

सोलन—सोलन के ऐतिहासिक ठोडो मैदान में आयोजित भाजपा की विजय संकल्प रैली में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक झलक पाने के लिए हर कोई दीवाना दिखा।  प्रधानमंत्री को देखने के लिए शहर के माल रोड पर लोगों का तांता लग गया और पुलिस को उन्हें व्यवस्थित रखने के लिए मशक्कत करनी पड़ी। हालांकि कुछ ऐसे भी थे, जिन्हें इतने करीब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को न देख पाने का मलाल भी था। सुबह से मोदी का इंतजार कर रहे शहरवासियों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा जब दोपहर के करीब 3ः15 बजे सोलन के आसमान पर हेलिकॉप्टर की गड़गड़ाहट सुननी शुरू हुई। सोलन के सेना ग्राउंड में पहले दो हेलिकाप्टर उतरे। दोनों की सफल लेंडिंग के बाद एक हेलिकाप्टर ने फिर से उड़ान भरी और शहर का एक चक्कर लगाने के बाद वह अपने गंतव्य को चला गया। इसके बाद भारतीय वायु सेना का हेलिकाप्टर प्रधानमंत्री को लेकर सेना के मैदान में उतरा। हेलिकाप्टर लैंड करने की खबर मिलते ही जहां मोदी के रैली स्थल तक जाने वाले रास्ते मंे तैनात पुलिस कर्मी अलर्ट हो गए।  शहरवासी भी अपने घरों से बाहर निकल आए, वहीं कुछ तो अपने नेता के दीदार के लिए मॉल रोड पर ही उतर आए। जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी का काफिला माल रोड पर पहुंचा तो सभी ने उनका हाथ हिलाकर अभिवादन किया। मोदी ने भी सभी का अभिवादन सहर्ष स्वीकार कर हाथ हिलाया। ठोडो ग्राउंड में अपने संबोधन के बाद उनका काफिला वापस उसी मार्ग से सेना के मैदान तक पहुंचा। इस दौरान भी लोगों ने उनका अभिवादन किया।

मेटल डिटेक्टर व डॉग स्कवायड से जांचा मॉल रोड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सोलन पहुंचने से करीब एक घंटा पहले ही सेना ने भी अपनी कसरत आरंभ कर दी थी। इस दौरान प्रधानमंत्री के काफिले के गुजरने वाले स्थान पर हाथों में मेटल डिटेक्टर लिए सेना के जवानों ने चप्पे-चप्पे को चैक किया। उनके पीछे डॉग स्क्वाड वाले चल रहे थे और डॉग हर एक चीज को सूंघ कर सब कुछ ठीक होने की इंडिकेशन दे रहा था।

रूट प्लान में बदलाव की अफवाह से हुए मायूस

मोदी के संबोधन के बाद उन्हें उसी रूट से वापस सेना के मैदान तक पहुंचना था। उनकी एक झलक को पाने के लिए माल रोड के दोनों ओर लोगों की भीड़ लगी थी। करीब दस मिनट के इंतजार के बाद सूचना मिली कि उनके रूट प्लान में बदलाव हो गया है। ऐसे में उनके इंतजार में माल रोड पर खड़े लोग मायूस हो गए और अपने घरों व ऑफिस की ओर चले गए। हालांकि दो मिनट बाद ही हूटर की आवाज के साथ पायलट गाड़ी माल रोड से गुजरी और देखते ही देखते नरेंद्र मोदी का काफिला उसी रूट से वापस सेना के मैदान की ओर चला गया। वहां से करीब 4.30 बजे प्रधानमंत्री के हेलीकाप्टर ने भठिंडा के लिए उड़ान भरी।

You might also like