टांडा में सुसाइड करने बिल्डिं‍ग पर चढ़ा मानसिक रोगी बचाया

टीएमसी—डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज एवं अस्पताल टांडा में उपचाराधीन एक मानसिक रोगी ने आत्महत्या करने का प्रयास किया। मानसिक रूप से परेशान युवक रविवार सुबह अचानक वार्ड से भागा और रिहायशी बिल्डिंग में तीसरी मंजिल पर सीढि़यों से चढ़कर  नीचे कूदने का प्रयास करने लगा। उतने में उसके पिता व अन्य लोगों ने उसे वहां देख लिया और सामने से जोर-जोर से चिल्लाते हुए उसे कूदने से इनकार करते रहे। ये बिल्डिंग पुलिस चौकी टांडा के बिलकुल नजदीक होने के चलते जैसे ही हैड कांस्टेबल पवन कुमार, मदन व रविंद्र को शोर सुनाई दिया तो पवन कुमार ने इस बिल्डिंग के साथ ही एक स्टाफ  नर्स का क्वार्टर जो कि बंद था का ताला तोड़कर चुपके से खिड़की से पहुंचकर उपरोक्त युवक को पकड़ लिया। हैड कांस्टेबल पवन कुमार की इस मुस्तैदी के चलते युवक को सुरक्षित बचा लिया। बताया जा रहा है कि थाना गगल के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के गोमतीनगर लखनऊ का युवक अक्षयराज दयाल जो कि मानसिक रूप से परेशान था और गगल थाना के निकट इच्छी में  झाडि़यों में टैंट लगा कर काफी समय से रह रहा था। टांडा के चिकित्सा अधीक्षक सुरेंद्र भारद्वाज ने कहा कि टांडा की सिक्योरिटी कंपनी के कर्मचारियों से नोटिस देकर जवाब लिया जाएगा कि उन्होंने ऐसी लापरवाही क्यों बरती कि एक दाखिल मरीज वार्ड छोड़ कर रिहायशी क्वार्टरों तक जा पहुंचा और कूदने का प्रयास करने लगा।

You might also like