टावर लगवाने के नाम पर ठगे पौने पांच लाख

कैथल। हरियाणा के कैथल में ठगों ने एक सूबेदार से उनकी पत्नी के भूखंड पर मोबाइल टॉवर लगवाने तथा नियमित किराए के रूप में आमदनी का स्रोत तैयार कर देने का लालच देकर पौने पांच लाख रुपए ठग लिए। पुलिस ने बताया कि ऋषिनगर निवासी सूबेदार वीरेंद्र सिंह की शिकायत जांच के लिए साइबर सेल को दी गई है। शिकायत के अनुसार गुजरात में तैनात सूबेदार सिंह ने इंदुस मोबाइल टॉवर इंस्टालेशन का एक ऑनलाइन विज्ञापन देखा था और जनकपुरी में अपनी पत्नी के भूखंड पर मोबाइल टॉवर लगवाने का आवेदन किया था। पहले उनसे 12 अप्रैल को 9600 रुपए फीस के रूप में एक बैंक खाते में जमा करवाए गए। उसके बाद अलग-अलग कारण जैसे अनापत्ति प्रमाणपत्र आदि बताकर उनसे पैंतालीस हजार, अस्सी हजार, पचपन हजार, एक लाख बीस हजार, एक लाख पंद्रह हजार और पचास हजार रुपए जमा करवाए गये। यह सब अठारह दिन की अवधि में हुआ। उसके बाद सामने वालों ने शिकायतकर्ता का फोन उठाना बंद कर दिया। उन्होंने जब मिले एनओसी की कंपनी से जांच की, तो वह फर्जी निकला। तब जाकर उन्हें अहसास हुआ कि वह ठगे गए हैं।

You might also like