ट्रिब्यूनल बंद करने की चर्चा पर भड़के कर्मी

शिमला -प्रशासनिक ट्रिब्यूनल बंद करने की चर्चा पर प्रदेश सचिवालय के कर्मचारी भड़क गए हैं। हालांकि अभी तक प्रदेश सरकार की ओर से ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं हैं, लेकिन सचिवालय कम्रचारियों को इस बात की भनक लग गई है। बुधवार को सचिवालय के प्रांगण में आयोजित आमसभा के दौरान सचिवालय सेवाएं कर्मचारी संगठन ने ट्रिब्यूनल सहित अन्य कई मुद्दों पर आवाज उठाई। दोपहर भोजन के बाद आर्म्सडेल भवन की पार्किंग में आमसभा का आयोजन किय गया। कर्मचारियों को संबोधित करते हुए सचिवालय सेवाएं कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष संजीव शर्मा प्रदेश सरकार से आग्रह किया कि प्रशासनिक ट्रिब्यूनल को बंद करने की कोशिश न करें। भविष्य में ऐसा हुआ तो कर्मचारी आंदोलन का रास्ता भी अपनाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने करूणामूलक आधार पर कर्मचारियों के आश्रितों को मिलने वाली नौकरी में 50 वर्ष की आयु की शर्त हटा दी है। जिसके लिए प्रदेश सरकार का आभर व्यक्त करते हैं। संजीव शर्मा ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि सचिवालय में खाली चल रहे विभिन्न पदों को समय रहते भरें, ताकि कर्मचारियों की समस्या कम हो सके। आमसभा के दौरान संगठन एक साल का आय-व्यय का लेख-जोखा घ्वनिमत से पारित किया गया। संगठन के महासचिव कमल कृष्ण शर्मा सहित सभी पदाधिकारियों ने भी आमसभा को संबोधित किया।

You might also like