डेराबस्सी में सड़क सुरक्षा पर ‘अरेस्टिंग रोड डेथ’ कैंपेन

डेराबस्सी – पैदल चालकों की सुरक्षा के मुद्दे पर प्रकाश डालने के लिए एनजीओ ड्राइव स्मार्ट ड्राइव सेफ  एंड अराइव सेफ  ने हैला इंडिया और पंजाब पुलिस के सहयोग से डेराबस्सी में ‘अरेस्टिंग रोड डेथ’ कैंपेन आयोजित किया। इस इवेंट का उद्देश्य संबंधित डिसीजन मेकर्स को डेरा बस्सी हाइवे पर पैदल चालकों की स्थिति की गंभीरता समझाना और उनसे डेरा बस्सी फ्लाईओवर से भूषण फैक्टरी तक फुटओवर ब्रिज एवं बेरिकेडिंग के निर्माण का आग्रह करना था। हैला इंडिया लाइटिंग के कर्मचारियों ने एनजीओ अराइव सेफ सुखमणि गु्रप, लौंगवाल पोलिटेक्निक, डेराबस्सी होटल एसोसिएशन, रेजिडेंट वैलफेयर एसोसिएशन, कंसर्न्ड सिटिजन, सिविल सोसायटी सदस्यों, ट्रैफिक पुलिस एवं सड़क सुरक्षा पर अनेक स्वैच्छिक कर्मियों के साथ इस इवेंट में हिस्सा लिया।  इस इवेंट में हरमन सिंह सिद्धू, प्रेजिडेंट, अराइव सेफ  एवं रमाशंकर पांडे, एमडी, हेला इंडिया मौजूद थे। यह इवेंट सड़क दुर्घटनाओं में मौत का शिकार हुए लोगों की याद में दो मिनट के मौन के साथ शुरू हुई। प्रतिभागियों ने सड़क सुरक्षा के आचरणों का पालन करने का संकल्प लिया और डेरा बस्सी हाई वे को पैदल चालकों के लिए सुरक्षित बनाने की मांग उठाने वाली अर्जी पर हस्ताक्षर किए। रमा शंकर पांडे, एमडी, हैला इंडिया लाइटिंग लिमिटेड ने कहा कि हर मिनट एक दुर्घटना, हर चार मिनट में एक मौत, एक दिन में 29 बच्चों की मौत को अब नजरंदाज नहीं किया जा सकता। ये मौतें देखकर सदमे और पीड़ा से हम सड़क सुरक्षा के सेनानी अब तब तक नहीं रुकेंगे, जब तक भारत में रोकी जा सकने वाली सभी सड़क दुर्घटनाओं से मुक्त नहीं हो जाता।

You might also like