ड्राइवर से मारपीट बर्दाश्त नहीं

परिवहन मजदूर संघ ने अफसर के खिलाफ मांगी कार्रवाई

 शिमला –देहरा में एचआरटीसी के चालक से मारपीट पर परिवहन मजदूर संघ भड़क गया है। संघ ने राज्य सरकार से मांग उठाई है कि ऑन ड्यूटी चालक से मारपीट करने वाले अधिकारी पर तुरंत कार्रवाई हो। संघ अधिकारी को सस्पेंड करने की मांग पर अड़ गया है। संघ ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। हिमाचल परिवहन मजदूर संघ के प्रदेशाध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर ने कहा कि मौके पर मौजूद लोगों ने अगर ड्राइवर को छुड़ाने का काम किया होता, तो इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना से बचा जा सकता था, लेकिन उन्होंने भी इसे छुड़ाने की जगह वीडियो बनाने का काम किया, जिससे दादागिरी करने वाला अधिकारी शिकंजे में चढ़ गया। उन्होंने कहा कि गाहे-बगाहे परिवहन कर्मचारियों को ऐसी विकट परिस्थितियों से सामना होने पर कई बार बहुत अपमान झेलने पड़ते हैं। इस घिनौनी घटना के असहनीय अपमान से परिवहन कर्मचारियों में पनपे तीव्र आक्र्रोश की गंभीरता को देखते हुए सरकार उक्त अधिकारी को तत्काल सस्पेंड करने के आदेश जारी करे। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इस संबंध में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री का मीडिया में आया बयान सिर्फ चुनाव के दौरान परिवहन कर्मचारियों की हमदर्दियां बटोरने तक ही सीमित है। नेता प्रतिपक्ष को पूर्व कांग्रेस सरकार द्वारा परिवहन कर्मचारियों के साथ किए गए सितम को भी याद करना चाहिए, जब 14 जून, 2016 के शांतिपूर्ण आंदोलन को एस्मा लगाकर पूरी निर्लज्जता से निर्ममतापूर्वक कुचल कर रख दिया था, जिसमें बिना चार्जशीट के ही दर्जनों कर्मचारियों की सेवाओं को समाप्त कर दिया था। हजारों कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस व एफआईआर दर्ज कराने और कोर्ट की अवमानना के कानूनी झमेलों में फंसाया गया था, जिन्हें बाद में हिमाचल हाई कोर्ट ने न्याय प्रदान कर बाइज्जत बरी किया है।

 

 

You might also like