ढलियारा कालेज में नवाजे मेधावी

परागपुर —ठाकुर शिक्षा स्नातकोत्तर महाविद्यालय ढलियारा ने मंगलवार को अपना 12वां वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया। इसमें शिक्षा विभाग हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला से प्रोफेसर डाक्टर नैन सिंह ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। कालेज पहुंचने पर ठाकुर शिक्षा स्नातकोत्तर महाविद्यालय ढलियारा के प्रबंध निर्देशक डा. राजेश ठाकुर व समस्त स्टाफ  ने मुख्यातिथि का कालेज पहुंचने पर भव्य स्वागत किया। सर्वप्रथम मुख्यातिथि ने मां सरस्वती की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इसके बाद बीएड की रितु एंड ग्रुव ने देवा श्री गणेशा वंदना से कार्यक्रम आरंभ किया। बीएड की मनीशा एंड ग्रुप ने राजस्थान के प्रसिद्ध लोक नृत्य घूमर पर नृत्य प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरीं, तो वहीं सेहा एंड ग्रुप ने पंजाबी भांगड़ा डालकर सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम के दौरान एमएससी की छात्रा मीनाक्षी ने जीवन में अनमोल रत्न होते हैं मां- बाप पर कविता बोलकर सभी को भावुक कर दिया। कार्यकारी प्राचार्य प्रोफेसर सतीश वालिया ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए बताया कि प्रबंधकारिणी के सराहनीय प्रयासों द्वारा महाविद्यालय परिसर में छह विषयों में स्नातकोत्तर कोर्स जिनमें प्राणी विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, भौतिक विज्ञान, संजय रसायन विज्ञान, गणित व वाणिज्य स्नातकोत्तर की कक्षाएं आरंभ की गयी हैं। इस अवसर पर बतौर मुख्यातिथि पहुंचे प्रोफेसर डाक्टर नैन सिंह ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि बच्चे महान व्यक्तियों के जीवनियों को पढ़ कर उनसे प्रेरणा लें।  उन्होंने कहा कि  जीवन में सफलता के लिए अनुशासन बहुत जरूरी है और अनुशासन ही सफलता की कुंजी है, इसलिए अनुशासन में रहते हुये दृढ़ संकल्प के साथ कड़ी मेहनत करें। अंत में मुख्यातिथि द्वारा वर्ष भर की गतिविधियों में अव्वल आने वाले बच्चों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर ठाकुर शिक्षा स्नातकोत्तर महाविद्यालय ढलियारा के प्रबंध निर्देशक डा. राजेश ठाकुर, ठाकुर ग्रुप ऑफ इंस्टीटयूट की चेयरमैन अंजना ठाकुर्र सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य डाक्टर डीपी शर्मा व प्रो. कर्ण पठानिया सहित कई गणमान्य लोग विशेष रुप से उपस्थित रहे।

You might also like