तीन फीसदी बढ़ा महंगाई भत्ता

चंडीगढ़ –हरियाणा सरकार ने अपने कर्मचारियों, पेंशनभोगियों और पारिवारिक पेंशन लेने वालों के लिए महंगाई भत्ता तीन प्रतिशत बढ़ाकर 12 प्रतिशत कर दिया। बढ़ा महंगाई भत्ता एक जनवरी 2019 से लागू होगा। हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि महंगाई भत्ता बढ़ने से राज्य के खजाने पर हर महीने करीब 17.70 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि बढ़े महंगाई भत्ते का भुगतान जनवरी 2019 से होगा, इस लिहाज से वर्ष 2019- 20 में राज्य के खजाने पर 14 माह (जनवरी 2019 से फरवरी 2020 तक) का कुल 247.80 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा। कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि राज्य सरकार ने अपने उन कर्मचारियों के लिए भी महंगाई भत्ता छह प्रतिशत बढ़ाया है जो कि पुराने वेतन मानकों के अनुरूप वेतन ले रहे हैं। उनके लिए महंगाई भत्ता 148 प्रतिशत से बढ़ाकर 154 प्रतिशत कर दिया गया है। यह वृद्धि भी एक जनवरी 2019 से ही लागू होगी। महंगाई भत्ते में हुई इस वृद्धि से सरकारी खजाने पर 63.55 लाख रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।

एचआरए का भी प्लान तैयार

सातवें वेतन आयोग ने एचआरए के तीन स्लैब बनाए हैं। ग्रामीण क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों को मूल वेतन का दस फीसद, शहरों में 20 और महानगरों में 30 फीसद एचआरए दिए जाने का प्रावधान है। राज्य के कर्मचारियों को अभी पुराने वेतनमान के हिसाब से 10, 20 और 30 फीसद एचआरए मिल रहा है। 30 फीसद एचआरए केवल दिल्ली में कार्यरत कर्मचारियों को दिया जा रहा है। कर्मचारियों की शुरू से यह मांग है कि दिल्ली के अलावा चंडीगढ़, पंचकूला, गुरुग्राम और फरीदाबाद में कार्यरत कर्मचारियों को 24 फीसदी एचआरए दिया जाए।

You might also like