दलाईलामा के लिए रात को भी खुलेगा एयरपोर्ट

बौद्ध धर्मगुरु के स्वास्थ्य लाभ की तैयारी को उठाया कदम, केंद्रीय निर्देशों के बाद एजेंसियां भी अलर्ट

धर्मशाला   -बौद्ध धर्मगुरु दलाईलामा की उम्र और सेहत को ध्यान में रखते हुए कई महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश जारी हुए हैं। धर्मगुरु को तुरंत स्वास्थ्य लाभ दिलाने के लिए कांगड़ा एयरपोर्ट को एमर्जेंसी में रात को भी खोला जा सकता है, जिससे उन्हें बिना देरी किए तुरंत दिल्ली तक पहुंचाया जा सके। केंद्रीय निर्देशों के बाद स्थानीय स्तर पर मॉकड्रिल करने के अलावा हवाई मार्ग से तुरंत बड़े अस्पताल तक ले जाने की भी पूरी योजना बन गई है। दलाईलाम के लिए भारत सरकार ने विशेष प्रबंध करने के निर्देश दिए हैं।  दिल्ली मुख्यालय से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार अगर दलाईलामा को हवाई अड्डा बंद होने के बाद भी बाहर ले जाना पड़ता है या रात को ले जाना पड़ता है, तो उनके लिए तुरंत एयरपोर्ट खोल दिया जाएगा।  हवाई मार्ग द्वारा दलाईलामा को दिल्ली तक ले जाने के लिए भी बाकायदा ट्रायल किया गया है। यह सब इसलिए किया जा रहा है कि अप्रैल माह में दलाईलामा की सेहत कुछ बिगड़ी थी  और नौ अप्रैल को उन्हें हवाई मार्ग से दिल्ली ले जाया गया था, जहां से वह स्वास्थ्य लाभ लेकर वापस लौटे थे। दलाईलामा अब पूरी तरह से स्वस्थ हैं, लेेकिन एहतियात के तौर पर केंद्र के निर्देश पर पूरे पुख्ता बंदोबस्त किए जा रहे हैं। । दलाईलामा के स्वास्थ्य को लेकर हवाई अड्डा प्रशासन ने भी पहले से ही अपनी व्यवस्थाओं को पुख्ता किया हुआ है। जिला प्रशासन को भी दलाईलामा के मामले में विशेष एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं। यही कारण है कि डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज टांडा सहित एयरपोर्ट तक मॉकड्रिल करवाने के लिए हवाई व्यवस्थाओं को भी चाक चौंबत किया जा रहा है। एमर्जेंसी में मकलोडगंज से कितने समय में टांडा और कितने समय में दिल्ली पहुंचाया जा सकता है, इस मामले पर पूरी एक्सरसाइज चल रही है। केंद्रीय निर्देशों पर दलाईलामा केे डाक्टर व सुरक्षा एजेंसियों सहित तमाम बिंदुओं को ध्यान में रखते हुए योजना बन रही है।  

 

You might also like