दशमेश रोटी बैंक के अध्यक्ष सरबजीत सिंह को किया सम्मानित

नाहन —दशमेश सेवा सोसायटी के अध्यक्ष एवं दशमेश रोटी बैंक के संस्थापक सेवानिवृत्त शिक्षक सरबजीत सिंह को मंगलवार को दशमेश रोटी बैंक के एक साल पूरा होने एवं उनके समाजसेवा में बेहतर कार्य करने पर शहर की आधा दर्जन सामाजिक संस्थाओं ने नवाजा है। सामाजिक संस्थाओं में गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी, भारत विकास परिषद, पर्यावरण समिति, बजरंग बली धाम, दशमेश सेवा सोसायटी आदि शामिल हंै। 12 मई, 2018 को सरबजीत सिंह की प्रेरणा से दशमेश रोटी बैंक की स्थापना जरूरतमंद परिवारों को भोजन एवं राशन उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से की गई थी, जिसके तहत पिछले एक साल से प्रत्येक महीने जरूरतमंद परिवारों को राशन वितरित किया जा रहा है। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष अमृत सिंह शाह, दशमेश सेवा सोसायटी के उपाध्यक्ष दलबीर सिंह, पर्यावरण समिति के अध्यक्ष डा. सुरेश जोशी ने कहा कि सरबजीत सिंह के नेत्रों की रोशनी न होने के बावूजद उनकी समाजसेवा में बढ़ती सोच व बढ़ते कदम सराहनीय कार्य व काबिलेतारीफ है। भारत विकास परिषद के अध्यक्ष डा. केसी शर्मा ने कहा कि दशमेश रोटी बैंक के अध्यक्ष सरबजीत सिंह की सबसे अधिक रुचि समाज सेवा में जरूरतमंद दिव्यांग, विधवा महिलाओं एवं बुजुर्ग दंपत्ति के परिवारों को भोजन उपलब्ध करवाने, गरीब बच्चों की पढ़ाई करवाने, गरीब लड़कियों के विवाह करवाने, गरीब लोगों को मुफ्त इलाज सुविधा मुहैया करवाने में है। शर्मा ने कहा कि समाज सेवा का दूसरा नाम दशमेश रोटी बैंक है, जो सरबजीत सिंह ने पिछले साल इसी दिन से शुरू किया था। पिछले एक साल से आटा, चावल, दालें, रिफाइंड तेल, नमक आदि प्रत्येक माह 50 से 60 जरूरतमंद परिवारों को वितरित किया जाता है, जिसके लिए सोसायटी के सदस्य प्रत्येक महीने गांव-गांव जाकर ऐसे परिवारों का चयन करते हैं।इस अवसर पर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान अमृत सिंह शाह, उपाध्यक्ष दलबीर सिंह, सतिंद्र कौर, गुनीत कौर, गुरजीत सिंह, हरप्रीत कौर, अरविंद्र सिंह, रणधीर सिंह, गुरमीत सिंह, अरविंद सिंह साहनी, सतसुंदर सिंह, जसपाल सिंह आदि उपस्थित थे। गुरु गोबिंद सिंह महाराज जी की कृपा से ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री दशमेश अस्थान साहिब नाहन में दशमेश सेवा सोसायटी के अध्यक्ष सरबजीत सिंह की प्रेरणा से शुरू किए गए दशमेश रोटी बैंक के तहत मंगलवार को 55 जरूरतमंद परिवारों को निःशुल्क राशन वितरित किया गया। इसमें आटा, चावल, दालें, रिफाइंड, तेल, नमक आदि वितरित किया गया।

You might also like