‘दिव्य हिमाचल’ के मंच पर सात सुरों का संगम

नालागढ़—प्रदेश के प्रतिष्ठित समाचार पत्र ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के लार्ड महावीरा कालेज ऑफ नर्सिंग नालागढ़ में आयोजित किए गए हिमाचल की आवाज सीजन-7 के ऑडिशन में प्रतिभागियों का उत्साह देखने लायक था। ‘दिव्य हिमाचल’  द्वारा मंगलवार को नालागढ़-स्वारघाट एनएच-105 मार्ग पर दत्तोवाल स्थित लार्ड महावीरा कालेज ऑफ नर्सिंग में आयोजित हिमाचल की आवाज सीजन-7 में बतौर मुख्यातिथि एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने शिरकत की, जबकि संस्थान के चेयरमैन डा. अजीत पाल जैन व डायरेक्टर डा. आशिमा जैन, एडमिनिस्ट्रेटर दीपिक शर्मा ने विशेष रूप से उपस्थित रहे। ऑडिशन में भाग लेने के लिए प्रतिभागी सुबह से ही उमड़ने शुरू हो गए। औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के स्कूलों के बच्चों सहित युवाओं ने ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा आयोजित इस आडिशन में उत्साह दिखाया और ऑडिशन में उन्होंने अपनी एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां देकर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया। बच्चों के साथ अभिभावकों का तो इतना कहना था कि इस तरह का प्लेटफार्म दिव्य हिमाचल द्वारा प्रदान किया गया है, जिसमें उनके बच्चों को अपना टेलेंट दिखाने का अवसर मिला है। जानकारी के मुताबिक प्रदेश के प्रतिष्ठित समाचार पत्र ‘दिव्य हिमाचल’  द्वारा लार्ड महावीरा कालेज ऑफ नर्सिंग नालागढ़ के ऑडिटोरियम में हिमाचल की आवाज सीजन-7 के ऑडिशन का आयोजन किया गया। ऑडिशन को लेकर क्षेत्र के स्कूली विद्यार्थियों सहित अन्य प्रतिभागिओं मेें खासा क्रेज था और ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा प्रतिभा निखारने के लिए दिए गए मंच का उन्होंने भरपूर लाभ उठाया। मुख्यातिथि एसडीएम नालागढ़ प्रशांत देष्टा ने कहा कि प्रदेश के प्रतिष्ठित समाचार पत्र द्वारा क्षेत्र की प्रतिभा को निखारने के लिए यह सुनहरा मंच प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, अपितु बेहतर मंच मुहैया होना चाहिए, जो कि ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा प्रदान किया गया है। गीतांजलि स्मार्ट स्कूल नालागढ़ की प्रिंसीपल गीतांजलि सचदेवा ने कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’  द्वारा आयोजित हिमाचल की आवाज के ऑडिशन का प्रयास सराहनीय है। आर्यन पब्लिक स्कूल के प्रिंसीपल जरनैल सिंह ने कहा कि दिव्य हिमाचल द्वारा प्रतियोगिता को सीनियर व जूनियर वर्ग में विभाजित किया है, जिसमें सभी प्रतिभागिओं को अपनी-अपनी प्रतिभा को दिखाने का मौका मिला है। दून वैली पब्लिक स्कूल के चेयरमैन राजीव शर्मा ने कहा कि क्षेत्र के प्रतिभागियों के लिए एक यह अच्छा अवसर है और ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा घर द्वार पर ही प्लेटफार्म मुहैया करवाया गया है और इस अवसर को किसी को भी नहीं गंवाना चाहिए, अपितु ऑडिशन में जाकर अपनी प्रतिभा के जौहर दिखाने चाहिए। शिवालिक वैली स्कूल किरपालपुर की प्रिंसीपल कविता बंसल ने कहा कि आज के आधुनिक युग में कंपीटीशन का दौर अधिक बढ़ गया है, लेकिन प्रतिभागियों को अपनी प्रतिभा निखारने के लिए मंच की कमी खलती है, जो कि ‘दिव्य हिमाचल’  द्वारा प्रदान की गई है। नवज्योति स्कूल के एमडी अगनजीत चौहान ने कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’  द्वारा प्रदेश में विभिन्न तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाता है जिसका लाभ प्रदेश सहित क्षेत्र के लोगों को मिल रहा है। संगीत शिक्षक डा. राजीव पठानिया ने कहा कि क्षेत्र में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, अपितु उन्हें मंच मुहैया होना चाहिए, जो कि ‘दिव्य हिमाचल’  ने प्रदान किया है।

प्रशिक्षु नर्सों का नहीं रहा खुशी का ठिकाना

लार्ड महावीरा कालेज आफ नर्सिंग नालागढ़ के ऑडिटोरियम में आयोजित इस इवेंट को देखने के लिए कालेज की प्रशिक्षु नर्सें भी बढ़-चढ़कर पहंुची और प्रतिभागियों की खूब हौसला अफजाई की। मंच के माध्यम से गायन  में जब जूनियर व वरिष्ठ वर्ग ने अपने अपने सुरों के जलवे बिखरे तो प्रशिक्षु नर्सों का जोश देखते ही बनता था।

बच्चों से लेकर युवाओं ने बिखेरे सुरों के जलवे

‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा आयोजित इस इवेंट में जहां जूनियर वर्ग में बच्चों ने अपने सुरों के जलवे बिखरे, वहीं वरिष्ठ वर्ग में युवा-युवतियों ने भी स्वरों की लहरियां बिखेरी। बच्चों सहित युवाओं ने कई दिनों से इस इवेंट की तैयारियां शुरू कर दी थी। प्रशिक्षु नर्सों में नहीं रहा खुशी का ठिकाना लार्ड महावीरा कालेज आफ नर्सिंग नालागढ़ के ऑडिटोरियम में आयोजित इस इवेंट को देखने के लिए कालेज की प्रशिक्षु नर्सें भी बढ़-चढ़कर पहंुचीं और प्रतिभागियों की खूब हौसला अफजाई की।

You might also like