दुनिया में डिप्रेशन के मामले में भारत नंबर वन

चंडीगढ़ -राजयोगिनी, शिक्षक ब्रहमकुमारी शिवानी ने कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनिया में भारत डिप्रेशन के मामले में पहले नंबर पर है। यदि समय रहते मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान न दिया गया तो देश में इस बीमारी का भयावह रूप धारण कर लेगी। बहन शिवानी ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सभी का ध्यान केवल शारीरिक स्वास्थ्य पर रहता है। लोग समझते हैं कि शरीर ही मन को कंट्रोल करता है लेकिन सच तो यह है कि मन का प्रभाव ही शरीर पर पड़ता है। लोगों की मानसिक स्थिति दिन ब दिन कमजोर होती जा रही है क्योंकि हमने अपनी मान्यता कुछ इस तरह बना ली है कि दुख, गुस्सा, चिंता हमें अपने मूल संस्कार लगने लगे हैं, जबकि हमारी मूल संस्कार तो शांति, पवित्रता, प्रेम, करूणा, सत्य, आनंद और खुशी है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में विकारों में फंस कर आज का मनुष्य मूल संस्कारों को भूल गया है।

You might also like