देश तोड़ने वालों के साथ खड़ी है कांग्रेस : राजनाथ

महराजगंज –  केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार बनाने के लिए बल्कि देश बनाने के लिए राजनीति करती है जबकि कांग्रेस देशद्रोह के कानून को समाप्त करने की वकालत करके खुलेआम देश तोडने वालों के साथ खड़े होने का संदेश दे रही है। निचलौल के राजा रत्न सेन इंटर कालेज के खेल मैदान में भाजपा प्रत्याशी पंकज चौधरी के पक्ष में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए श्री सिंह ने कहा कि कांग्रेस का कहना है कि सत्ता मिली तो वह देशद्रोह के कानून को खत्म कर देगी लेकिन भाजपा देशद्रोह कानून को इतना सख्त बनाएगी कि देशद्रोह की बात सोचने से पहले उनकी रूह कांप जाये। उन्होने कहा कि भाजपा जाति,धर्म और मजहब की राजनीति नहीं करती, भाजपा ने पांच साल सबका साथ सबका विकास की नीति पर सरकार चलायी और देश को समृद्ध बनाया। भाजपा देश को धनवान ही नहीं बलवान और ज्ञानवान भी बनाना चाहती है। भाजपा नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता से विपक्षा हताशा में है। इसलिए प्रधानमंत्री पर निजी हमले किए जा रहे हैं। लोकतंत्र में प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति व्यक्ति नहीं संस्था होते हैं, और विपक्ष लगातार लोकतांत्रिक संस्थाओं की प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास में जुटा हुआ है। उन्होने कहा कि भाजपा देश को मजबूत और समृद्ध राष्ट्र बनाने की ओर तेजी से अग्रसर है। पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी ने देश को परमाणु सम्पन्न देश बनाया तो श्री नरेन्द्र मोदी ने अंतरिक्ष सम्पन्न देश बनाया, और पूरी दुनिया में भारत का गौरव बढ़ाया। श्री सिंह ने कहा “ मैं नहीं कहता कि आज से पहले इस देश में काम नहीं हुआ लेकिन हमारे और उनके काम का तरीका अलग था। प्रधानमंत्री आवास योजना कांग्रेस ने शुरु की और 2008 से 2014 तक देश में महज 25 लाख लोगों को घर दिया लेकिन भाजपा की सरकार बनी तो पांच सालों में एक करोड से अधिक घर बनाए गए। आजादी के बाद से 2014 तक देश में 12 करोड परिवार को गैस कनेक्शन दिया और पांच साल में भाजपा के उज्जवला से 13 करोड परिवारों को गैस मिला। ” उन्होने कहा कि देश में सड़कों का विकास श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने शुरु किया था जिसे मोदी सरकार ने तेजी से आगे बढ़ाया। उन्होंने कांग्रेस के न्याय योजना पर तंज कसते हुए कहा कि 55 सालों तक अंखड राज्य करने वाली कांग्रेस अब गरीबों के साथ न्याय करने की बात कर रही है। सपा बसपा पर भी तीखा हमला बोलते हुये उन्होने कहा कि दोनो ही दल नेतृत्व संकट से जूझ रहे हैं।

You might also like