दो दिन बसों के भरोसे न रहें

चंंबा —प्रदेश मंे 19 मई को होने वाले लोकसभा चुनावों को लेकर पोलिंग स्टेशनों पर पार्टियों को पहुंचाने एवं लाने के लिए निगम की बसें बुक की गई हैं। लिहाजा 19 मई तक लोगों को विभिन्न तरह के एमर्जेंसी के अलावा अन्य तरह के कार्योंे को जाने के लिए बसों की कमी खल सकती है। पहाड़ी जिला चंबा की बात करें तो 17 मई को विभिन्न स्थानों पर पोलिंग पार्टियों को ड्रॉप करने को लेकर एचआरटीसी की 81 बसें बुक की गई हैं, वहीं 19 मई को चुनावों के दिन पोलिंग पार्टियों को लाने के लिए पहले से ही 87 बसें बुक हैं। ऐसे मंे दो तीन दिनों तक लोगों को गंतव्य सहित अन्य तरह कार्यों को निकलने के लिए निजी बसे ही सहारा बन सकती है।पहाड़ी जिला चंबा की बात करें, तो कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां पर सिर्फ निगम प्रबंधन की बस सेवा ही लोगों को सुविधा प्रदान कर रही है । लिहाज इन क्षेत्रों में स्कूली छात्रों के साथ अन्य जनमानस को दो दिन तक बस सेवा न मिल पाने के  चलते टैक्सियों का सहरा लेना पड़ सकता है। इलेक्शन पार्टियों को लाने ले जाने के लिए बुक की गई बसों के चलते चंबा के दुर्गम क्षेत्रों सहित लोकर रूट बाधित हो जाएंगे। लांग रूट पर चलने वाले बस सेवा पहले की तरह निर्धारित रूट पर दौड़ंेगी। निगम प्रबंधन के पास निर्धारित रूट से ज्यादा कुछ ही बसें उपलब्ध हैं ऐसे मंे इलेक्शन पार्टियों को लाने-ले जाने के  लिए बुक की गई बसों के स्थान पर वैकल्पिक बस सेवा भी उपलब्ध नहीं हो पाएगी।  आरएम चंबा सुभाष रणौत्रा ने बताया कि इलैक्शन पार्टियों ले जाने के लिए 17 को 81 बसें बुक की गई हैं वहीं, पोलिंग के बाद पार्टियों को लाने के  लिए 19 मई को एचआरटीसी की 87 बसें बुक हैं। लिहाजा इस दौरान निगम के कई रूट प्रभावित होंगे। 

You might also like