नाइट विजन कैमरे से रखेंगे गगरेट की सड़कों पर नजर

गगरेट —रोड सेफ्टी क्लब गगरेट की बैठक गुरुवार को लोक निर्माण विभाग के गगरेट स्थित विश्राम गृह में संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता एसएचओ सुशील कुमार ने की। बैठक में जहां सड़क दुर्घटनाओं का ग्राफ नीचे करने पर गहन मंथन किया गया वहीं यातायात नियमों की सख्ती से अनुपालना करवाने के साथ यातायात नियमों के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक करने पर भी बल दिया गया। एसएचओ सुशील कुमार ने कहा कि गगरेट की सड़कों पर पैनी नजर रखने के लिए सात नाइट विजन कैमरे स्थापित किए जाएंगे, ताकि सड़कों पर होने वाली हर गतिविधि पर नजर रखी जा सके। उन्होंने कहा कि अकसर देखने में आया है कि कई बार सड़क दुर्घटनाओं में शामिल वाहन भागने में सफल हो जाते हैं और ऐसे वाहनों का कोई सुराग न लगने के कारण अकसर दुर्घटनाओं के मामले लंबित ही रहते हैं, लेकिन नाइट विजन कैमरे स्थापित होने से आपराधिक मामले सुलझाने में भी मद्द मिलेगी। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही कस्बे में गुडि़या हेल्पलाइन सहित पुलिस के महत्त्वपूर्ण फोन नंबर भी डिस्प्ले किए जाएंगे। इससे पहले क्लब के वरिष्ठ सदस्य पंडित प्राण नाथ शर्मा ने क्लब की बैठकों में सरकारी सदस्यों के न आने पर सख्त नाराजगी जताते हुए कहा कि क्लब के गैर सरकारी सदस्य तो इन बैठकों को गंभीरता से ले रहे हैं लेकिन सरकारी सदस्य गैर जिम्मेदाराना रवैया दिखा रहे हैं। इससे कई अहम मामलों में फैसला लेने में दिक्कत हो रही है। उन्होंने कहा कि अगली पीढ़ी को जागरूक कर ही सड़क दुर्घटनाओं का ग्राफ नीचे लाया जा सकता है। इस अवसर पर क्लब के अध्यक्ष विशाल पुरी, जिला परिषद सदस्य रमेश चंद हीर, राजीव शर्मा, अजय ठाकुर, विवेक शर्मा, हैड कांस्टेबल संजीव ठाकुर, सरदार बलबीर सिंह, विजय कुमार भी मौजूद थे।

You might also like