नादौन के हर बूथ पर अनुराग की आंधी

नादौन —जिला के पांच विधानसभा क्षेत्रों में नादौन से भाजपा को मिली सबसे अधिक लीड से जहां भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक विजय अग्निहोत्री का सियासी कद बढ़ा है, वहीं नादौन कांग्रेस के लिए यह चिंता का विषय बन गया है। भाजपा नादौन क्षेत्र में पूर्व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंदर सुक्खू के बूथ भबड़ां पर भी बढ़त बनाने में सफल रही है। हालांकि अनुराग ठाकुर को पूरे विधानसभा क्षेत्र में लीड मिली है, परंतु इस बूथ पर उन्हें सबसे कम मत मिले हैं। यहां भाजपा को 241 तथा कांग्रेस को 233 मत मिले हें। वहीं, विजय अग्निहोत्री के बूथ पन्साई पर नादौन क्षेत्र में भाजपा को सबसे अधिक मत मिले हैं। यहां पर भाजपा को 453 तथा कांग्रेस को 49 मत ही मिल सके। इसके अलावा नादौन में करीब 20 बूथ ऐसे रहे जहां कांग्रेस को मिले मत दहाई के अंक तक ही सीमित रहे। कुछ ऐसे बूथों पर भी भाजपा का प्रदर्शन बेहतर रहा, जहां कभी कांग्रेस का दबदबा रहता था, जबकि कई बूथों पर दोनों ही दलों के मतों में काफी अंतर रहा। भोऊ बूथ पर भाजपा को 195 तथा कांग्रेस को 36 मत ही मिले। ढगो में 252-45, कांगू 402-76, जनसूह 406-62, ग्वालपत्थर 415-84, जीहण 339-90, चिल्लियां 457-97, बदेहड़ा 255-46 तथा 245-28, बसारल 150-66, पन्याली 449-82, दाड़ 282-94, सनाही 390-61, मनसोली 256-69, हथोल 318-93, मंडयाणी 380-88 सहित कई अन्य बूथ ऐसे रहे जहां मतों का काफी अंतर रहा, जो कि पहले कभी नहीं देखा गया। विधानसभा चुनावों में नादौन की सीट हार चुकी भाजपा ने इन चुनावों में काफी बेहतर प्रदर्शन किया है, जिसका मुख्य कारण यह रहा कि नादौन की कमान अनुराग ठाकुर के साथ विजय अग्निहोत्री ने संभाल रखी थी। वहीं, विस चुनावों के बाद गुटबाजी झेल रही भाजपा ने इन चुनावों में सभी मतभेद भुलाकर एकजुटता से कार्य किया। मुख्यमंत्री के दौरे के अलावा यहां किसी बड़े नेता के न आने के बावजूद भाजपा के सभी संगठनों में बेहतर तालमेल रहा। वहीं, कांग्रेस के प्रचार ने जब गति पकड़ी, तब तक भाजपा इस मामले में कहीं आगे निकल चुकी थी, जिस कारण ही गत विधानसभा चुनावों में हार के बावजूद भाजपा 27854 वोटों की बढ़त बनाने में कामयाब रही। इसने कांग्रेस की चिंताएं अवश्य बढ़ा दी हैं।

You might also like