नालागढ़ में गेहूं के 300 बंडल राख

नालागढ़—जैसे-जैसे गर्मियां अपने परवान पर आ रही है, वैसे वैसे आग की घटनाएं भी क्षेत्र में घटित होने लगी है। नालागढ़ उपमंडल के तहत दो अलग-अलग जगहों में गेंहू की कटी व खेतों में खड़ी फसल को नुकसान हो गया है। हालांकि फायर ब्रिगेड की मुस्तैदी से आग पर काबू पाया गया, लेकिन किसानों की मेहनत पर पानी फिर गया है। दोनों ही जगहों पर शॉट सर्किट से आग लगनी बताई जा रही है। आग की पहली घटना खेड़ा में घटित हुई है, जहां पर 300 कटे हुए गेंहू के बंडल और दो क्विंटल तूड़ी आग में स्वाह हो गई है, जबकि दूसरी आग की घटना कंसंबोवाल की है, जहां खेतों में खड़ी फसल आग में राख हो गई है। जानकारी के अनुसार गर्मी अब अपना रंग दिखाने लगी है और इसके साथ ही आग की घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है। फायर बिग्रेड नालागढ़ के मुताबिक उन्हें खेड़ा में आग लगने की सूचना मिली तो तुरंत ही एक टीम मौके पर पहंुची और आग बुझाने के कार्य में जुट गई। यहां सुरजीत सिंह के खेतों में कटी हुई गेहूं की फसल में आग लग गई, जिससे 300 बंडल गेहूं सहित साथ ही पड़ी दो क्विंटल तूड़ी जल गई है। फायर ब्रिगेड के फायरमैन राजिंद्र सिंह व अमरचंद, चालक महेंद्र सिंह की टीम वाटर बाउजर लेकर मौके पर पहंुची और एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर तो काबू पा लिया गया, लेकिन तब तक किसान को करीब 40 हजार का नुकसान हो चुका था। फायर ब्रिगेड ने यहां 800 गेहंू के कटे हुए बंडल सहित करीब एक लाख की संपत्ति को जलने से बचा ली। उधर, बागवानियां के समीप कंसंबोवाल गुज्जरां में ईल्मदीन के एक बीघा खेत में खड़ी गेहूं की फसल में अचानक आग लग गई। फायर ब्रिगेड के लीडिंग फायरमैन जोगिंद्र सिंह, फायरमैन प्रवीण कुमार, गृहरक्षक जवान लक्ष्मी सिंह, गुरमीत सिंह व चालक गोविंद एक वाटर बाउजर लेकर मौके पर पहंुचे और आग बुझाने के कार्य में जुट गए, लेकिन आग से किसान को करीब 11 हजार का नुकसान हुआ हो गया है, जबकि फायर बिग्रेड ने मुस्तैदी से आसपास की अन्य करीब 50 हजार की संपत्ति को जलने से बचा लिया है। फायर ब्रिगेड नालागढ़ के कार्यवाहक प्रभारी कर्मचंद ने बताया कि आग की दो घटनाएं शॉट सर्किट से हुई है, जिसमें 51 हजार रुपए का नुकसान हुआ है, जबकि फायर बिग्रेड ने करीब 1.50 लाख की संपत्ति को जलने से बचा लिया है।

You might also like