नाहन से हनौल मंदिर के लिए चलाई जाए निगम की बस

पांवटा साहिब – गिरिपार क्षेत्र के मिनस में उत्तराखंड राज्य में स्थित प्रसिद्ध हनौल महासू देवता मंदिर के लिए क्षेत्र के लोगों ने निगम की बस चलाने की मांग की है। गिरिपार के क्षेत्रिय विकास समिति कफोटा के प्रधान गुमान चौहान, चूड़ेश्वर सेवा समिति कफोटा इकाई के प्रधान अतर सिंह पुंडीर, सदस्य कल्याण सिंह चौहान, कंवर सिंह ठाकुर, व्यापार मंडल कफोटा के पूर्व प्रधान हृदय राम पुंडीर, पूर्व प्रधान धनवीर पुंडीर, शिलाई के पूर्व प्रधान जगत सिंह तोमर, जगत सिंह पुंडीर, संतराम पुंडीर आदि सैकड़ों लोगों का कहना है कि हनौल मंदिर क्षेत्र की आस्था का प्रतीक है तथा गिरिपार क्षेत्र समेत जिला व पड़ोसी राज्य हरियाणा व उत्तर प्रदेश से भी रोजाना सैकड़ों श्रद्धालु महासू देवता के दर्शनों को हनौल जाते हैं। उक्त पवित्र धाम के लिए निगम की बस सुविधा न होने के कारण लोगों को प्राइवेट टैक्सियां लेकर मंदिर जाना पड़ता है, जिससे गरीब वर्ग पिस रहा है। क्षेत्र के लोगों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, परिवहन मंत्री गोबिंद ठाकुर व क्षेत्र के विधायक हर्षवर्धन चौहान से मांग की है कि उक्त रूट पर प्रदेश परिवहन निगम नाहन से हनौल के लिए बस सेवा आरंभ करे, ताकि भक्तों को राहत मिल सके। शिल्ला गांव के निवासी व महासू देवता के भक्त कल्याण सिंह चौहान का कहना है कि बुजुर्गों के मुताबिक हनौल महासू देवता का मंदिर पांडवों के समय का बना हुआ है। बताया जाता है कि यह पांचवा धाम है। इस पवित्र धाम के लिए परिवहन निगम को बस सुविधा प्रदान करनी चाहिए। उधर, इस बारे आरएम निगम रशीद मोहम्मद शेख ने बताया कि वह क्षेत्रवासियों की मांग को उच्चाधिकारियों के समक्ष रखेंगे, ताकि उक्त रूट पर बस चलाने की प्रक्रिया को अंजाम दिया जा सके।

You might also like