निफ्ट कांगड़ा में 146 छात्रों को बांटीं डिग्रियां

दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्यातिथि लद्दाख के एक भारतीय इंजीनियर सोनम वांगचुक ने बढ़ाया मान

कांगड़ा -नेशनल इंस्टीच्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी निफ्ट कांगड़ा के दीक्षांत समारोह में ग्रेजुएशन पास आउट कार्यक्रम का आगाज हो गया। वहीं, बुधवार को दीक्षांत समारोह में संस्थान के 146 विद्यार्थियों को डिग्रियां प्रदान की गईं, जिनमें से 22 विद्यार्थी प्रदेश के ही है। दीक्षांत समारोह में छात्नों को व्यक्तिगत रूप से सर्वश्रेष्ठ अकादमिक प्रदर्शन के लिए पुरस्कार भी प्रदान किए, जबकि संस्थान के विभिन्न विभागों, सामुदायिक सेवाओं और शैक्षणकि प्रदर्शनियों में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया गया। दीक्षांत  समारोह में मुख्यातिथि के रूप में पधारे लद्दाख के एक भारतीय इंजीनियर और शिक्षा सुधारक सोनम वांगचुक ने पासआउट हुए 146 विद्यार्थियों को जहां डिग्रियां बांटीं, वहीं प्रदेश के लिए निफ्ट जैसे संस्थान का होना एक बड़ी जरूरत बताया है। सोमन वांगचुक ने कहा कि प्रदेश की भौगोलिक स्थिति के लिए निफ्ट जैसे संस्थान की बहुत जरूरत है और इन्हीं शिक्षक संस्थान से ही प्रदेश के क्राफ्ट उद्योग की पहुंच विदेशों में पहुंच सकती है। इस अवसर पर निफ्ट महानिदेशक शारदा मुरलीधरन ने कहा कि आप एक ऐसे अद्वितीय ब्रह्ममांड में कदम रख रहे हैं, जो कि अपने स्वभाव को हर सेकेंड में बदलता रहता है और जहां आभासी दुकानों में चलना फीका है और हवा में 3डी ऑब्जेक्ट बनाना समय के लिए आसान है, वही डीन अकादमिक प्रोफेसर शर्मिला ज दुआ ने भी पासआउट हुए 146 विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दीं। निफ्ट कांगड़ा के डायरेक्टर सिविचन के मैथ्यू ने कहा पर्वतीय क्षेत्र में निफ्ट जैसे संस्थान का होना अपने आप में ही बड़ी बात है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार के निरंतर सहयोग से देश के विभिन्न भागों से आने वाले विख्यात प्रोफेशनल व निफ्ट मुख्यालय से लगातार प्राप्त होने वाले मार्गदर्शन के कारण निफ्ट कांगड़ा परिवार ने निर्धारित उच्च स्तरीय मानकों के अनुसार सभी छात्नों को निरंतर अकादमिक वितरण सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि निफ्ट कांगड़ा परिसर के छात्रों का यह सातवां मैच है, जिसमें बैचलर ऑफ फैशन डिजाइन डिग्री की फैशन डिजाइन, टैक्सटाइल डिजाइन, फैशन और जीवन शैली डिजाइन, फैशन संप्रेषण विशेषज्ञता और बैचलर ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी डिग्री में स्नातक होने जा रहे 146 छात्नों का है। इन स्नातकों ने सामाजिक सांस्कृतिक हस्तक्षेप के माध्यम से इस क्षेत्र के समग्र विकास को प्रभावित किया और परिसर के सदस्यों को प्रसन्नता और ऊर्जावान रखते हुए निरंतर संवाद से क्षेत्नीय शिल्पकार ओं एवं स्थानीय लोगों के जीवन को भी प्रभावित किया है। दीक्षांत समारोह में निफ्ट कांगड़ा के सभी अधिकारीगण व कर्मचारी भी उपस्थित थे।

 

 

 

You might also like