नूडल नहीं मिले, तो दे दी जान

हमीरपुर में वाकया, जिद पूरी न होने पर नाबालिग ने लगाया फंदा

हमीरपुर —नूडल खाने की जिद पूरी न होने के बाद एक नाबालिग ने फंदा लगाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। यह अजीब हादसा हमीरपुर के वार्ड नंबर दो में पेश आया। यहां रहने वाले एक परिवार का नाबालिग बेटा रात दस बजे नूडल खाने की जिद करने लगा। घर में नूडल न होने पर परिवार ने इसके लिए मना कर दिया। रात का समय होने के कारण परिजनों ने नूडल लाने में असमर्थता जताई। इसके बाद गुस्से में नाबालिग कमरे में चला गया तथा वहां दुपट्टे का फंदा बनाकर छत से झूल गया। थोड़ी देर बाद जब परिजनों ने उसे छत से लटका देखा तो सभी के होश उड़ गए। नाबालिग को फंदे से उतारा गया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया है। आगामी कार्रवाई की जा रही है। जानकारी के अनुसार गुरप्रीत सिंह (14) गांव व डाकघर खुदपुर तहसील मुकेरियां जिला होशियारपुर ने फंदा लगाकर जान दे दी। रविवार के दिन मृतक घर पर ही था। रात करीब दस बजे उसने नूडल की डिमांड शुरू कर दी। नाबालिग नूडल खाने की जिद पर अड़ गया। इस पर परिजनों ने कहा कि रात के समय नूडल नहीं मिल सकते। इसके बाद गुस्से में आए नाबालिग ने खौफनाक कदम उठा लिया। कमरे में जाकर वह फंदे से झूल गया। रात को ही पुलिस को इसकी सूचना दी गई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। इसकी पुष्टि पुलिस अधीक्षक हमीरपुर अर्जित सेन ने की। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा गया है।

You might also like