नेरवा-कुल्लू में करोड़ों का नशा जब्त

एचआरटीसी बस से पौने चार किलो अफीम ले जाते दो नेपाली झमराड़ी में धरे

नेरवा —उत्तराखंड की सीमा पर फेडिजपुल के समीप झमराड़ी स्थित  पुलिस चेक पोस्ट पर नेरवा थाना और चेक पोस्ट की संयुक्त टीम द्वारा की गई नाकाबंदी के दौरान हरिद्वार से शिमला जा रही एचआरटीसी की बस से अफीम की एक बड़ी खेप सहित नेपाली मूल के दो युवाओं को हिरासत में लिया गया है।  जानकारी के अनुसार पुलिस की इस संयुक्त टीम के सदस्य मुख्य आरक्षी अंकुश राणा, लोकेन्द्र, एलएचसी सुरेश, आरक्षी सुधीर, सुभाष व बुद्धि सिंह आने जाने वाले वाहनों की तलाशी ले रहे थे। इस दौरान हरिद्वार से शिमला जाने वाली एचआरटीसी की बस की तलाशी के दौरान बस में बैठे दो नेपाली युवक पुलिस की कार्रवाई को देखकर हड़बड़ा गए। पुलिस ने शक होने पर जब उनके सामान की तलाशी ली तो एक बैग में छुपा कर रखी गई तीन किलो 884 ग्राम अफीम बरामद की गई। पुलिस द्वारा बरामद की गई अफीम की इस खेप की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करोड़ों रुपए बताई जा रही है। माना जा रहा है कि यह नेपाली शातिर इस खेप को नेपाल से लेकर आए थे व जिला शिमला के ही किसी क्षेत्र में किसी माध्यम से इसे किसी बड़े तस्कर तक पहुंचाया जाना था। कथित रूप से बीते साल भी इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं। प्रारंभिक पूछताछ में युवकों ने अपना नाम दल बहादुर और सोम बहादुर बताया है । यह बात भी सामने आई है कि हिरासत में लिए गए इन दो युवकों में एक हिंदी बिलकुल भी नहीं जानता है। आरोपियों को बुधवार को अदालत में पेश किया जाएगा। इस विषय में डीएसपी चौपाल संतोष शर्मा से बात करने पर उन्होंने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि फिलहाल वह छुट्टी पर हैं व थाने में तैनात स्टाफ  को मामले की गहनता से छानबीन करने के नर्देश दे दिए गए हैं।

You might also like