न भीड़ और न ही नारों का शोर 

पालमपुर—विधानसभा और पंचायत चुनावों के परिणामों को लेकर मतगणना स्थलों पर जुटने वाली भीड़ लोकसभा चुनावों के वोटों की गिनती के अवसर पर नजर नहीं आई। आलम यह कि पालमपुर के बतरा कालेज में स्थापित किए गए काउंटिंग सेंटर के बाहर पूरी तरह वीरानगी छाई रही। सुरक्षा को लेकर पुलिस तथा प्रशासन ने अनेक तरह की व्यवस्था की थी, लेकिन कालेज परिसर के बहार परिणाम जानने के लिए इक्का-दुक्का लोग भी नहीं पहुंचे। टीवी व सोशल मीडिया पर लगातार मिल रही जानकारी का असर माना जाए या फिर लोकसभा चुनावों को लेकर आम जनता में अधिक रुचि न होने का प्रमाण कि बतरा कालेज परिसर में चुनाव अधिकारियों, उम्मीदवारों के एजेंटों और मीडिया से जुड़े लोगों के अलावा कोई दिखाई ही नहीं दिया। विधानसभा चुनावों के दौरान जहां पालमपुर और सुलाह विस क्षेत्र के परिणाम जानने के लिए बतरा कालेज के बाहर मैदान में सैकड़ों की संख्या में लोग जुटे थे, वहीं लोकसभा चुनावों में चार क्षिेत्रों की गिनती यहां किए जाने के बावजूद मैदान में सिर्फ वाहन ही खड़े दिखाई दे रहे थे। पत्रकारों को मीडिया सेंटर तक फोन ले जाने की छूट थी और लोग मीडिया के लोगों से ही फोन पर लीड की जानकारी ले रहे थे। बतरा कालेज में बिलकुल शांता वातावरण में मतगणना पूरी हुई, न लोगों की भीड़ दिखी, न ही नारों का शोर सुनाई दिया।

You might also like