एसडीओ के कूल रूम में डेंगू का लारवा

पंचकूला -औरों को नसीहत खुद मियां फजीहत लगभग पंचकूला में लारवा व डेंगू मलेरिया को लेकर यही हालात है। ऐसे में जिला के लोगों को इससे बचाने को क्या प्रयास होंगे, जब महकमे के अपने हालात ही खराब है।  एक ओर जहां पब्लिक को अपने घर के कूलर व आस-पास के एरिया को साफ रखने के लिए अवेयर किया जाना चाहिए।  वही सामने यह आ रहा है कि अभी सरकारी दफ्तरों में ही अधिकारी और अफसर इसकी रोकथाम के लिए अगर नहीं है, इस बात का खुलासा हरियाणा रोडवेज और पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट को दिए नोटिस से हुआ है। दरअसल हेल्थ डिपार्टमेंट ने जीएम रोडवेज और पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट के एसडीओ को उनके दफ्तरों में लगे कूल रूम के अंदर डेंगू का लारवा मिलने पर नोटिस दिया है। साथ ही हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से यह भी बताया गया है कि यहां पिछले साल भी लापरवाही सामने आई थी कि इन डिपार्टमेंट को पिछले साल भी नोटिस दिया गया था, जिसके बाद भी यहां पर हालात नहीं सुधर पाए हैं। हैरानी की बात है कि हाल ही में पंचकूला के डीसी डा. बलकार सिंह ने हेल्थ डिपार्टमेंट और दूसरे अधिकारियों की मीटिंग ली थी, जिसमें उन्होंने अलग-अलग डिपार्टमेंट को डेंगू और मलेरिया को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग का साथ देने के लिए जिम्मेदारियां दी थी इसके बावजूद सरकारी दफ्तरों में डेंगू का लारवा मिल रहा है।

टीमों से स्प्रे करवाने की मांग

सेक्टर-26 आरडब्लू, प्रधान धर्म सिंह हीरा ने बताया कि पिछले साल भी गंगा पार के आर से ज्यादा सेक्टरों में कई बार शिकायत देने के बाद फागिंग हो पाई थी, हेल्थ डिपार्टमेंट और नगर निगम इस साल टाइम से पहले ही यहां के आठ से ज्यादा सेक्टरों में मच्छरों को मारने के लिए फागिंग और एंटी लारवा स्प्रे करवाने के लिए अलग-अलग टीम में बनाई जानी चाहिए। यहां पर सीजन के शुरुआत में भी सभी सेक्टरों में इमो को विजिट के लिए भेजा जाना चाहिए। सेक्टर 8 के आरपी मल्होत्रा ने बताया कि पंचकूला सिटी सेंटर सेक्टर-पांच में सभी पार्कों के अलावा जितने भी सेक्टरों के अंतर पर बने हैं, यहां पर भी हेल्थ डिपार्टमेंट और नगर निगम की टीमों को विजिट के लिए आना चाहिए अभी से ही पार्कों में मच्छर काफी हो चुके हैं, लोग शाम को पार्कों में आते हैं, तो उन्हें काफी परेशान होना पड़ता है।

You might also like