पंचकूला में सुधरेगी ट्रैफिक व्यवस्था

शहर की सड़कों के सुधरेंगे हालात; प्रशासन जल्द करवाएगा सर्वे, एक्सीडेंट प्रोन एरिया को किया जाएगा नोटीफाई

पंचकूला – संभ्रात शहर पंचकूला के साथ लगते चंडीगढ़ की पहचान सबसे बढि़या ट्रैफिक व्यवस्था वाले शहर में होती है। मगर पंचकूला के सभ्य शहरियों को चाह कर भी पंचकूला में ट्रैफिक की खराब हालत के कारण अच्छी ट्रैफिक व्यवस्था से वंचित है। अब प्रशासन को इस मामले में सर्वे करने की जरूरत महसूस हुई है, जिसमें एक्सीडेंट प्रोन एरिया को देख उन्हें नोटीफाई कर उन प्वाइंट्स को क्लीयर  करवाया जाएगा। अब जल्द ही मीटिंग होनी है, जिसमें रिपोर्ट जमा करवा दी जाएगी। इसको लेकर रोड सेफ्टी के ऑर्गेनाइजेशन के प्रजिडेंट सुभाष कपूर ने कहा कि डेढ़ महीने पहले  डीसी पंचकूला और डीसीपी के साथ रोड सेफ्टी ऑर्गलाइजेशन के साथ मीटिंग हुई थी। अब इसमें एक सर्वे किया जाना है, जिसमें एक्सीडेंट प्रोन एरिया को देख उन्हें नोटीफाई कर उन प्वाइंट्स को क्लीयर करवाया जाएगा। अब जल्द ही मीटिंग होनी है, जिसमें रिपोर्ट सबमिट करवा दी जाएगी। इसके अलावा हमने सेक्टर-20 और सेक्टर-3 की रेड लाइट प्वाइंट पर भी नंबरिंग को री-शेड्यूल करवाने के लिए प्लानिंग की जा रही एक ओर ट्रैफिक पुलिस रोड साइड एक्सीडेंट्स को रोकने के लिए अवेयरनेस कैंपेन चलाती है। वहीं दूसरी ओर शहर में ऐसी भी लाइट्स है, जिन पर या तो सिग्नल प्रोब्लम है और या उन पर नंबरिंग नहीं होने के कारण लोग हादसों के शिकार हो रहे है। हाल ही में सेक्टर-20 लाइट प्वाइंट पर भी टू-व्हीलर का दूसरी गाड़ी से एक्सीडेंट हो गया था, जिसमें युवक की मौत हो गई थी, जिसके बाद सेक्टर-20 के लोगों ने डिमांड की थी कि यहां शाम को लगने वाले जाम को क्लीयर करवाने के लिए पुलिस की ओर से बंदोबस्त किए जाने चाहिए। वहीं इसके बाद रोड सेफ्टी ऑर्गनाइजेशन की ओर से भी मंथली मीटिंग में मुद्दा उठाया गया था, जिसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से एक कमेटी का गठन किया गया, जिसमें अलग-अलग डिपार्टमेंट के अधिकारी और आरएसओ के प्रेजिडेंट भी शामिल हैं।

You might also like