परमाणु समझौते से जुड़ा रहे ईरान: पुतिन

 

परमाणु समझौते से जुड़ा रहे ईरान: पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने ईरान से परमाणु समझौते से जुड़े रहने का आग्रह किया है। ईरान की सरकारी समाचार एजेंसी आईआरएनए के मुताबिक श्री पुतिन ने बुधवार को रूस के सोची शहर में ऑस्ट्रिया के राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद पत्रकारों से कहा, “ 2015 के परमाणु समझौते से धीरे-धीरे देश अलग हो रहे हैं, लेकिन वह ईरान के नेताओं को सलाह देते हैं कि अमेरिका की परवाह किये बिना वे इस ऐतिहासिक परमाणु समझौते से जुड़े रहें।” रूसी राष्ट्रपति ने कहा, “ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ईरान परमाणु समझौते से अलग होने के बाद यूरोप ने इस समझौते को बचाने के लिए कुछ नहीं किया और यदि अब ईरान परमाणु समझौते के अंतर्गत संयुक्त समग्र कार्य योजना( जेसीपीओए) के तहत किए गए वादों से खुद को अलग कर लेता है तो सभी उसे दोषी ठहरायेंगे।” इससे पहले ईरान ने बुधवार को आधिकारिक रूप से परमाणु समझौते के तहत किए गए वादों से खुद को अलग करने की घोषणा की थी। ईरान के परमाणु ऊर्जा संगठन ने इस बात की पुष्टि की थी। श्री पुतिन ने कहा कि रूस इस परमाणु समझौते में मध्यस्थता कर खुश है और भविष्य में भी मदद करेगा। उल्लेखनीय है कि गत वर्ष मई में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान परमाणु समझौते से अपने देश के अलग होने की घोषणा की थी। इसके बाद से ही इस परमाणु समझौते के प्रावधानों को लागू करने को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।गौरतलब है कि वर्ष 2015 में ईरान ने अमेरिका, चीन, रूस, जर्मनी, फ्रांस और ब्रिटेन के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। समझौते के तहत ईरान ने उस पर लगे आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के बदले अपने परमाणु कार्यक्रम को सीमित करने पर सहमति जताई थी। 

 

You might also like