पांच महीने बाद लाहुल में दनादन दौड़ेगी एचआरटीसी

केलांग—लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही लाहुल में यातायात व्यवस्था को भी एचआरटीसी ने बहाल कर दिया है। सोमवार को केलांग-कोकसर, केलांग-उदयपुर वाया त्रिलोकनाथ, कोकसर-ग्रांफू व केलांग-चौखंग रूट का निरीक्षण निगम के कर्मियों व प्रशासन के अधिकारियों ने किया। इस दौरान सभी रूटों को बस चलने योग्य पाया गया और निगम ने मंगलवार से उक्त सभी रूट पर बसें दौड़ा देगा। पांच महीने बाद बर्फ की कैद से आजाद हुए लाहुल में जहां मंगलवार से परिवहन व्यवस्था बहाल होने जा रही है, वहीं घाटी के लोगों ने भी राहत की सांस ली है। रोहतांग दर्रे को पैदल लांघने वाले जहां मनाली की तरफ से रोहतांग टॉप तक वाहनों में पहुंच रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ लोगों को अब ग्रांफू तक ही पैदल जाना पड़ेगा। यहां से निगम की बसों की सेवाएं लोगों को उपलब्ध होंगी। यही नहीं केलांग से कोकसर के लिए निगम की बस मंगलवार सुबह शुरू कर दी जाएगी। एचआरटीसी के केलांग डिपो के क्षेत्रिय प्रबंधक मंगलचंद मनेपा का कहना है कि सोमवार को उक्त केलांग-कोकसर रूट पर बस का ट्रायल किया गया। ट्रायल सफल होने के बाद निगम ने यह निर्णय लिया कि उक्त रूट पर मंगलवार से गाडि़यों को दौड़ा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावा घाटी की उन सभी सड़कों को पर भी यातायात व्यवस्था को निगम ने बहाल कर दिया है, जहां से बर्फ हटा ली गई है। उल्लेखनीय है कि लोक सभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए जहां चुनाव आयोग ने लाहुल-स्पीति प्रशासन को यह निर्देश दिए हैं कि लोक सभा चुनावों से पहले लाहुल की सभी सड़कों को बहाल किया जाए, वहीं प्रशासन ने लाहुल में यातायात व्यवस्था को भी बहाल कर दिया है। यही नहीं लाहुल-स्पीति में स्थापित किए गए 92 पोलिंग स्टेशनों की सड़कों को बहाल करने में प्रशासन ने कामयाबी हासिल की है। लिहाजा इनर घाटी की सड़कों के बहाल होते ही अब एचआरटीसी के केलांग डिपो ने अपनी बसों को दौड़ाना शुरू कर दिया है। मंगलवार वार से केलांग-कोकसर रूट पर निगम की बस दौड़ना शुरू हो जाएगी। उधर, उपायुक्त लाहुल-स्पीति अश्वनी कुमार चौधरी ने बताया कि घाटी की अधिकतर सड़कों को प्रशासन ने बहाल कर दिया है। एचआरटीसी की बस सेवा भी कुछ नए रूटों पर मंगलवार से बहाल की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रशासन का पूरा प्रयास है कि लोगों को जल्द से जल्द एचआरटीसी की सेवा उपलब्ध करवाई जाए।

You might also like