पाक बोर्ड का फरमान, भारत से मैच के बाद ही बीवी का साथ

कराची —पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने आखिरकार विश्वकप के दौरान इंग्लैंड में अपने खिलाडि़यों को परिवार के साथ रहने की अनुमति दे दी, लेकिन वे ऐसा 16 जून को चिर प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ मैच के बाद ही कर सकते हैं। इसका फैसला पीसीबी ने कुछ क्रिकेट बोर्ड के फैमिली साथ रखने के फैसले के बाद मंजूरी दी है। पीसीबी ने हाल में इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज के दौरान खिलाडि़यों को अपने परिवार को साथ रखने की अनुमति दे दी थी, लेकिन उसने पिछले महीने कप्तान सरफराज अहमद के विश्वकप के लिए इसी तरह के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया था। पीसीबी के एक अधिकारी के अनुसार पाकिस्तानी खिलाड़ी चाहते थे कि उनकी पत्नी और बच्चों को आस्ट्रेलिया के खिलाफ 12 जून को होने वाले मैच के बाद उनके साथ रहने की अनुमति दे दी जाए। अधिकारी ने कहा कि बोर्ड ने अन्य टीमों के चलन को देखते हुए अपने पूर्व फैसले की समीक्षा करने का फैसला किया।

इंजमाम का दावा, इस बार तो जीत कर रहेंगे

कराची। पाकिस्तान के मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक को विश्वास है कि उनकी राष्ट्रीय टीम 16 जून को होने वाले मैच में वर्ल्डकप में भारत के खिलाफ छह हार के क्रम को तोड़ने में सफल रहेगी। पाकिस्तान अब तक विश्वकप में कभी भारत से नहीं जीत पाया है, लेकिन पूर्व टेस्ट कप्तान को लगता है कि इस बार जब ये दोनों चिर प्रतिद्वंद्वी मैनचेस्टर में आमने-सामने होंगे, तो उनकी टीम जीत दर्ज करने में सफल रहेगी। इंजमाम ने कहा कि लोग भारत पाक मैच को बहुत गंभीरता से लेते हैं और कुछ तो यहां तक कहते हैं कि अगर हम भारत के खिलाफ केवल विश्वकप में जीत दर्ज कर लेते हैं तो हमें खुशी होगी। उन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट की एक वेबसाइट से कहा कि मुझे उम्मीद है कि हम भारत के खिलाफ विश्वकप मैचों में हार का क्रम तोड़ने में सफल रहेंगे। इंजमाम ने कहा कि वर्ल्डकप का मतलब केवल भारत के खिलाफ होने वाला मैच नहीं है और पाकिस्तान में अन्य टीमों को हराने की भी क्षमता है।

You might also like