पिपलू मेला 12 जून से

बंगाणा—ग्र्रामीण विकास, पंचायती राज, पशु तथा मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने बताया कि जिला का प्रसिद्ध धार्मिक, ऐतिहासिक एवं प्राचीन जिला स्तरीय ऐतिहासिक पिपलू मेले का आयोजन 12 से 14 जून तक किया जाएगा। मेले का शुभारंभ 12 जून को मुख्यातिथि द्वारा पूजा अर्चना एवं झंडा रस्म के साथ होगा। मेले के दौरान सांस्कृतिक एवं विभिन्न खेल स्पर्धाएं भी आयोजित की जाएंगी। वीरेंद्र कंवर सोमवार को मेले के सफल आयोजन को लेकर विश्राम गृह थानाकलां में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि तीन दिन तक चलने वाले इस ऐतिहासिक एवं प्राचीन मेले के दौरान तीनों दिन सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा जिसमें विभिन्न सांस्कृतिक दलों के साथ-साथ स्थानीय स्कूलों के बच्चों को भी भाग लेने का मौका दिया जाएगा। उन्होने बताया कि मेले के दौरान तहसीलदार बंगाणा मेला अधिकारी होंगे जबकि एसएचओ बंगाणा पुलिस मेला अधिकारी होंगे। उन्होने बताया कि मेले के दौरान विभिन्न विभागों की विकासात्मक प्रदशर्नियां भी लगाई जाएंगी। मेले के दौरान वालीबाल, कबड्डी तथा कुश्ती प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जाएंगी। उन्हांेने मेले के दौरान कानून एव व्यवस्था के साथ-साथ ट्रैफिक व्यवस्था को भी बेहतर बनाए रखने के लिए संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश दिए। वीरेंद्र कंवर ने सभी अधिकारियों से मेले के सफल आयोजन के लिए अपना सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ सहयोग प्रदान करने का आह्वान किया। बैठक में उपायुक्त राकेश कुमार प्रजापति, एसडीएम बंगाणा संजीव कुमार, तहसीलदार शमशेर सिंह, बीडीओ सोनू गोयल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं अन्य गैर सरकारी सदस्य उपस्थित थे।

You might also like