पीएम मोदी के राडार ज्ञान का उड़ा मजाक

विपक्ष ने बादल संबंधी प्रधानमंत्री के दावे को बताया ‘हास्यास्पद’

नई दिल्ली –कांग्रेस सहित विभिन्न विपक्षी दलों ने बालाकोट हवाई हमले के दौरान बादल छाए रहने के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावे पर कटाक्ष करते हुए उनके बयान को ‘‘हास्यास्पद और झूठा’’ करार दिया। माकपा ने मोदी के खिलाफ चुनाव आयोग को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि मतदाताओं को लुभाने के लिए टेलीविजन साक्षात्कार में ‘संवेदनशील’ सैन्य मिशन का खुलासा करना आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। आरोपों को खारिज करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावडेकर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने (बालाकोट स्ट्राइक के बारे में) ऐसा कुछ भी खुलासा नहीं किया जो उन्हें नहीं बताना चाहिए था। मोदी की टिप्पणी पर भाजपा के एक ट्वीट के जवाब में कांग्रेस ने ट्वीट किया कि ‘जुमला ही फेंकता रहा पांच साल की सरकार में, सोचता था क्लाउडी है मौसम, नहीं आऊंगा राडार में।’ मोदी की टिप्पणी पर कांग्रेस के कई नेताओं ने उन पर निशाना साधा। कांग्रेस प्रवक्ता राजीव सातव ने कहा कि ‘मोदीजी मैं पूरी तरह सहमत हूं कि आप नीरव मोदी, मेहुल भाई और विजय माल्या को ‘भगाने’ के आपरेशन में विशेषज्ञ हैं, क्योंकि वे कभी आपके राडार में नहीं आए। बादल के बारे में आपकी टिप्पणी राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर आपकी समझ और ज्ञान को बयां करती है। कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख दिव्या स्पंदना ने कहा कि बेवकूफी, झूठ, भ्रष्टाचार, फर्जी आंकड़े का पता लगाने के लिए हमारे पास भी यह नया और उन्नत राडार 2014 से ही है…राडार विमानों का पता लगाते हैं। बादल हैं या नहीं इससे फर्क नहीं पड़ता। यदि ऐसा होता तो दूसरे देशों के विमान जब चाहे सीमा पार फायरिंग कर चले जाते। ऐसा तब होता है जब आप अतीत में अटके होते हैं।

ब्लॉग लिखकर समझाएंगे जेटली

कांग्रेस के एक और प्रवक्ता संजय झा ने उनकी टिप्पणी पर तंज कसते हुए कहा कि अब (वित्त मंत्री अरूण) जेटली इस पर एक ब्लॉग लिखकर विस्तार से समझाएंगे ।

उमर का हमला, महबूबा ने साधा निशाना

नेशनल कान्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने भी मोदी की टिप्पणी के लिए उन पर हमला किया। उन्होंने ट्वीट किया कि पाकिस्तानी राडार बादलों को भेद नहीं सकते। यह सामरिक जानकारी का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है, जो भविष्य के हवाई हमलों की योजना बनाते समय महत्त्वपूर्ण होगा। उधर, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि बालाकोट एयर स्ट्राइक की सचाई पर सवाल उठाने के लिए मुझ पर जमकर निशाना साधा गया, लेकिन बादल संबंधी भारी भूल पर पाकिस्तानी मीडिया और पत्रकारों द्वारा ट्रोल को देखना बहुत शर्मसार करने वाली बात है।

You might also like