पीढ़ी पंचायत करेगी चुनावों का बहिष्कार

कुल्लू —जिला कुल्लू की मणिकर्ण घाटी स्थित सारणी पीणी सड़क के निर्माण कार्य में हो रही लेट लतीफी के चलते ग्रामीणों में भारी रोष पनप गया है। काम न होने के चलते सोमवार को इस संबंध में ग्रामीणों ने उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा और मतदान से ठीक एक पहले काम करने की बात कही। ग्रामीणों ने उपायुक्त को दो टुक शब्दों में कहा कि अगर सड़क का कार्य मतदान से एक दिन पहले 18 मई तक पूरी नहीं किया गया तो ग्रामीण मतदान का बहिष्कार करेंगे और उनके क्षेत्र से कोई भी वोट डालने के लिए नहीं जाएगा। गौरतलब है कि पिछले कई वर्षों से क्षेत्र की दो पिछड़ी पंचायतों के हजारों ग्रामीणों सड़क सुविधा का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन लोक निर्माण विभाग और सरकार सड़क सुविधा का सिर्फ  आश्वासन ही अभी तक ग्रामीणों को मिल पाया है। सड़क का काम लंबे समय से अधर में लटका हुआ है। विभाग की लेटलतीफी के कारण से अभी तक सड़क का काम पूरा नहीं हो पाया है। हालांकि कई बार ग्रामीणों ने इस सबंध में विभाग को भी अवगत करवाया है। लेकिन विभाग के कान में जूं तक रेंग नहीं पाई है। सड़क का काम अधूरा रहने पर मजबूरन सोमवार को ग्रामीणों ने इस बात से उपायुक्त को अवगत करवाते हुए 18 मई तक काम को पूरा करने की बात कही है।  हालांकि ग्रामीणों का कहना है कि उन्होंने पिछले महीने से ही लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने का मन बनाया है। इसी संबंध में आज पीढ़ी पंचायत के उपप्रधान भीम सिंह ने ग्रामीणों सहित उपायुक्त से मिले और उन्हें सड़क सुविधा शुरू करने के लिए ज्ञापन सौंपा। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल की और से कहा कि अगर 18 मई से पहले सड़क को बहाल नहीं किया गया तो वह 19 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे यानि कि वह कोई भी मतदान करने के लिए अपने पोलिंग वूथों में नहीं जाएंगे। उपायुक्त ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन देते हुए कहा कि वह जल्द ही सड़क को बहाल करने का कार्य शुरू कर देंगे ताकि ग्रामीणों को सुविधा का लाभ मिल सके।

You might also like