पैसा वसूलने पर डाक्टर चार्जशीट

हिमकेयर योजना का सही इस्तेमाल न करने पर शिकंजा

 शिमला —हिमकेयर योजना का सही इस्तेमाल न करने पर आईजीएमसी के डाक्टर को चार्जशीट कर दिया गया है। हड्डियों के डाक्टर पर प्रदेश सरकार ने जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। एचएफडब्ल्यू बीबी14-1-2019 पत्र संख्या नंबर के तहत जांच  आदेश जारी किए गए हैं। शिकायत के मुताबिक आईजीएमसी के ऑर्थो विभाग के इस डाक्टर ने प्रभावित की सर्जरी के लिए 42000 रुपए जमा करने के लिए कहे। इस दौरान प्रभावित को कहा गया कि ये पैसे ग्लब्स और सीरिंज के लिए इस्तेमाल होने हैं। गौर हो कि हिमकेयर में इलाज के तहत यह खर्चा मरीज को नहीं उठाना पड़ता है। शिकायत के अनुसार डाक्टर सरकारी स्कीम का इस्तेमाल नहीं कर रहा था। सरकार के पास मरीजों की संबंधित डाक्टर के खिलाफ कई शिकायतें आ रही थीं, लिहाजा सरकार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए डाक्टर के चार्जशीट के आदेश जारी कर दिए हैं। आईजीएमसी में प्रतिदिन प्रदेश भर से सौ से अधिक ऐसे मरीज आते हैं, जिन्हें सरकारी योजना के तहत लाभ मिल सकता है। इसमें आईजीएमसी के ऑर्थो विभाग में ही 40 फीसदी मरीज ऐसे होते हैं, जिनकी सर्जरी करनी पड़ती है। ऑर्थो के उपकरण वैसे ही बहुत महंगे होते हैं, लिहाजा प्रदेश सरकार ने स्वास्थ्य योजना को गंभीरता से इस्तेमाल करने के निर्देश दिए हैं।

लापरवाही पर कार्रवाई

हिमाचल सरकार की स्वास्थ्य योजना को लेकर डाक्टर की लापरवाही पर अपनी तरह की यह बड़ी कार्रवाई अंजाम में लाई गई है। बताया जा रहा है कि संबंधित डाक्टर पर दुर्व्यवहार का भी आरोप लगा है। वहीं,देखा जाए तो हिमाचल में स्वास्थ्य योजनाएं काफी बेहतर चल रही हैं। ऐसे में सरकार का मानना है कि यदि डाक्टरों द्वारा इस तरह की लापरवाही बरती जाती है, तो यह प्रदेश के लिए चिंता का विषय है।

 

You might also like