प्रतिबंध के बाद भी बिक रहा नशा

प्रदेश में चोरी छिपे धड़ल्ले से हो रहा गुटखा खैनी का कारोबार

भोरंज -प्रदेश सरकार ने गुटखा, पान मसाला व खैनी के भंडारण, विक्रय व वितरण को अवैध घोषित कर दिया है। सरकारी आदेशों के अनुसार प्रदेश में यदि कोई व्यक्ति इन पदार्थों का भंडारण, उत्पादन व विक्रय करता हुआ पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ  खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के प्रावधानों के तहत कड़ी कार्रवाई की जा सकती है। इन पदार्थों के भंडारण व वितरण के लिए न ही कोई लाइसैंस दिए जाते हैं और न ही व्यापारियों का पंजीकरण किया जाता है। बावजूद इसके ये प्रतिबंधित पदार्थ जिला हमीरपुर के भोरंज के विभिन्न कस्बों में धड़ल्ले से बिक रहे हैं। इसकी प्रमाणिकता की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि लोगों को सरेआम गुटखा- खैनी खाते हुए देखा जा सकता है। इतना ही नहीं, इन प्रतिबंधित पदार्थों को खाने वाले लोग सरेआम जमीन पर थूकते हुए नजर आते हैं। अब प्रश्न यह उठता है कि ये प्रतिबंधित पदार्थ इस क्षेत्र में कहां से पहुंच रहे हैं। इन प्रतिबंधित पदार्थों को बाजार में ग्राहक बड़ी आसानी से प्राप्त कर लेते हैं।  लोगों में राजकुमार, नरोत्तम, यशवंत, अनिल कुमार, संजीव, मनोहर लाल, अनिल कुमार, विपिन, अनिल, संजीव, चमन, कुलदीप, बलबीर इत्यादि ने  पुलिस विभाग से मांग की है कि शीघ्र गुटखा, पान मसाला व खैनी के भंडारण, विक्रय व वितरण पर लगाम लगाई जाए।

You might also like