प्रतिभागियों को बांटे पुरस्कार

डलहौजी—यूथ होस्टल डलहौजी के तत्त्वावधान में आयोजित छह दिवसीय नेचर स्टडी व ट्रेकिंग कैंप का सफलतापूर्वक संपन्न हो गया। इस कैंप में महाराष्ट्र व गुजरात से आए 70 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कैंप के समापन मौके पर एसडीएम डलहौजी डा. मुरारी लाल ने मुख्यातिथि के तौर पर उपस्थिति दर्ज करवाई। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हम प्राकृतिक जीवन शैली से ही स्वस्थ रह सकते है। हमें पर्यावरण के प्रति जागरूक रहना चाहिए हमारे आस पास पाए जाने वाले वायु, जल, भूमि वनस्पति सब मिलाकर पर्यावरण बनाते है हमें इनके सरक्षण के प्रति आगे आना चाहिए ताकि पर्यावरण संतुलन बरकरार रह सके स उन्होंने कहा कि इस तरह के ट्रेकिंग शिविर से शारीरिक व मानसिक विकास होता है वहीं बच्चों में एकता व आपसी सहयोग की भावना उत्पन्न होती है उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजन में विभिन्न राज्यों से आए बच्चों में एक दूसरे की संस्कृति के बारे में ज्ञान व चरित्र, साहसए मित्रता जैसे आदर्शों का विकास होता है। ऐसे शिविर में छात्रों को आनंद एवं उत्साह के साथ भाग लेकर यादगार बनाना चाहिए उन्होंने बच्चों को सफाई के प्रति जागरूक रहने का संदेश दिया। उन्होंने प्रतिभागियों को चित्रकला प्रतियोगिता के पुरस्कार और प्रमाण पत्र प्रदान कर प्रोत्साहित भी किया। वहीं बच्चों द्वारा प्रेरणात्मक कार्यक्त्रम भी प्रस्तुत किए गए। कैंप के दौरान प्रतिभागियों ने राक क्लाइबिंग, ट्रैकिंग व रैपलिंग आदि सहासिक गतिवधियों में हिस्सा लिया। इस मौके पर यूथ हास्टल के इंचार्ज राम सिंह थामस, फील्ड डायरेक्टर कुनाल जोशी, कैंप लीडर नीलम जोशी व् अंशुल सूद भी मौजूद रहे।

You might also like