प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व पीएम मनमोहन को बताया वॉचमैन

सागर। लोकसभा चुनाव को देखते हुए हमले तेज और धारदार होते जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक जनसभा के दौरान भाषा की शालीनता भूलते हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को वॉचमैन बता डाला। उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह को देश की फिक्र नहीं, बल्कि कुर्सी की फिक्र थी। इस वजह से देश तबाह होता गया, बर्बाद होता चला गया। जनसभा में पीएम मोदी ने कहा कि क्रिकेट में दिन का खेल पूरा होने का समय आखिरी एक-दो ओवर बाकी हों और कोई आउट होता है तो जो आखिरी नंबर का होता है, उसे लाया जाता है, वह नाइट वॉचमैन का काम करता है। नाइट वॉचमैन भेजते हैं…जो अच्छे खिलाड़ी हैं, उन्हें नहीं भेजते। कांग्रेस को 2004 में, उन्होंने सोचा नहीं था, अचानक मौका मिल गया तो राजकुमार की संभालने की स्थिति नहीं थी, खुद परिवार को राजकुमार पर भरोसा नहीं था। कांग्रेस को भरोसा नहीं था, तो राजकुमार तैयार होने तक, परिवार का वफादार वॉचमैन बैठाने की योजना बनी। उन्होंने सोचा कि राजकुमार आज सीखेगा, कल सीखेगा, सब इंतजार करते रहे, भरपूर ट्रेनिंग देने की कोशिश भी की गई, लेकिन सबकुछ बेकार हो गया। मोदी ने कहा कि इस कोशिश में देश के 10 साल तबाह हो गए, बर्बाद हो गए। ऐक्टिंग पीएम, रिमोट उनके पास नहीं था, किसी और के पास था। वह देश की चिंता छोड़ कुर्सी की चिंता में ही लगे रहे। दस साल देश ने ऐसी सरकार देखी कि हर तरफ हताशा-निराशा फैल गई। आखिरकार 2014 में इन लोगों को देश की जनता ने निकालकर बाहर कर दिया।

You might also like