फायदेमंद है गन्‍ने का रस

गन्ने का रस बहुत ही सेहतमंद और गुणकारी पेय है। इसमें कैल्शियम, पोटाशियम, आयरन, मैगनीशियम और फास्फोरस जैसे आवश्यक पोषक तत्त्व पाए जाते हैं। गर्मियों में गन्ने का जूस न सिर्फ  स्वाद में टेस्टी लगता है, बल्कि आपको कई बीमारियों से भी बचाता है। गन्ने में मिनरल, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसे पीने से कई तरह की बीमारियां जैसे एनीमिया, जांडिस, हिचकी आदि ठीक हो जाते हैं। अम्लपित्त रोगों में गन्ने का ताजा रस काफी फायदेमंद है। गन्ने में मिनरल, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में पाया जाता है। पेट में होने वाली जलन में भी गन्ने का रस लाभदायक होता है। तो आइए जानते है कि आखिर गन्ने का जूस पीने के क्या-क्या फायदे हंै ।

कैंसर से बचाव

गन्ने के जूस में मैगनीशियम, कैल्शियम, आयरन और पोटाशियम जैसे पोषक तत्त्व पाए जाते हैं। ये तत्व कैंसर से बचाव रखने में सहायक साबित होते हैं।

पाचन को ठीक रखता है

यह रस पाचन सही रखने के साथ-साथ पेट में संक्रमण होने से भी बचाता है। गन्ने का रस कब्ज की समस्या को भी दूर करता है।

हृदय रोगों से बचाता है

गन्ने का रस पीने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर गिरता है। इस तरह धमनियों में फैट नहीं जमता और दिल व शरीर के अंगों के बीच खून का बहाव अच्छा रहता है। 

वजन कम करने में सहायक

गन्ने का रस शरीर में प्राकृतिक शक्कर पहंुचाकर और खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करके आपका वजन कम करने में सहायक होता है।

डायबिटीज को करे दूर

गन्ना स्वाद में मीठा और प्राकृतिक शुगर से भरपूर होता है। इसमें कम ग्लाइसीमिक इंडेक्स की वजह से यह मधुमेह के रोगियों के लिए अच्छा होता है ।

त्वचा में निखार लाता है

गन्ने के रस में अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड पदार्थ होता है, जो त्वचा से संबंधित परेशानियों को दूर करता है और त्वचा को नमी देकर झुर्रियां कम करता है।

थकान को करे कम

गन्ने में अच्छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, आयरन, पोटाशियम जैसे सभी जरूरी न्यूट्रीएंट्स होते हैं। इसी वजह से एक गिलास गन्ने का रस शरीर को एनर्जी से भर देता है।

पीलिया में दे राहत

सदियों से पीलिया से पीडि़त मरीजों को गन्ने का रस दिया जाता है। क्योंकि इसका जूस पीलिया के कारण लिवर को प्रभावित करने वाला बिलीरुबिन नामक तत्त्व को कम करता है। यदि आप डायबिटीज के शिकार हैं तो गन्ने का जूस पी सकते हैं क्योंकि यह ब्लड ग्लूकोज लेवल को बैलेंस कर के रखता है।

You might also like