फीमेल हैल्थ वर्कर को स्टाफ नर्स की पदोन्नत्ति का विरोध

नाहन—हिमाचल प्रदेश ट्रेंड नर्सिज एसोसिएशन प्रदेश सरकार व स्वास्थ्य विभाग के उस निर्णय से खफा हैं, जिसमें स्वास्थ्य विभाग ने महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता को पदोन्नत्ति कर 10 प्रतिशत कोटा स्टाफ नर्स में शामिल किए जाने की बात कही गई है। नर्सिज एसोसिएशन ने सरकार के इस निर्णय का कड़ा विरोध किया है। स्टाफ नर्सिज एसोसिएशन का कहना है कि यदि फीमेल हेल्थ वर्कर को स्टाफ नर्स का 10 प्रतिशत कोटा दिया जा सकता है तो सालों से बतौर स्टाफ नर्स कार्यरत उन नर्सिज को जिन्होंने जीएनएम का डिप्लोमा किया है को बीएससी नर्सिंग की पदोन्नत्ति श्रेणी में जोड़ा जाए। मंगलवार को नाहन में जारी बयान में जिला सिरमौर ट्रेंड नर्सिज एसोसिएशन की नाहन इकाई की अध्यक्ष रंजना माटा, महासचिव कमलेश चंदोला, पूर्व अध्यक्ष व वरिष्ठ पदाधिकारी सुलोचना शर्मा, मेडिकल कालेज नाहन पैरा मेडिकल स्टाफ एसोसिएशन की अध्यक्ष प्रीतम कौर, अनीता शर्मा, रजनी शर्मा, रिजवाना ठाकुर, सरिता ठाकुर, रेणु, पारूल, रीना, कमलेश आदि ने कहा कि हाल ही में स्वास्थ्य विभाग ने फीमेल हेल्थ वर्कर जो कि जमा दो विज्ञान विषय में उत्तीर्ण है को स्टाफ नर्सिज बनने के लिए पदोन्नत्ति में 10 प्रतिशत कोटे का ऐलान किया है। सरकार के इस निर्णय का ट्रेंड नर्सिज एसोसिएशन कड़ा विरोध करती है। ट्रेंड स्टाफ नर्सिज एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि इस बारे में शीघ्र ही प्रदेश के मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री के अलावा निदेशक स्वास्थ्य विभाग को ज्ञापन भेजा जाएगा। यदि विभाग ने इस निर्णय को वापिस नहीं लिया तो प्रदेश भर में ट्रेंड स्टाफ नर्सिज एसोसिएशन विरोध करेगी।

You might also like