फूड क्राफ्ट इंस्टीच्यूट में इस बार 50 सीटें

धर्मशाला—राजकीय फूड क्राफ्ट इंस्टीच्यूट धर्मशाला में इस बार 30 नहीं बल्कि 50 छात्रों को प्रशिक्षण के लिए दाखिला दिया जाएगा। छात्रों की भारी डिमांड को देखते हुए सरकार ने यह निर्णय लिया है। वर्तमान समय में होटलों और पर्यटन में रोजगार की आपार संभावनाएं हैं। ग्लोवलाइजेशन के दौर में टै्रवल एवं टूरिज्म के साथ होटल इंडस्ट्री में नए रोजगार पैदा हो रहे हैं। संस्थान के अनुसार कुछ वर्षों में होटल इंडस्ट्री में करियर की संभावनाओं में तेजी से वृद्धि हुई है। आज के समय में एक मात्र ऐसी इंडस्ट्री है, जिसमें नौकरियां की डिमांड ज्यादा और सप्लाई कम है। इस कारण छात्रों का रुझान इस कोर्स की तरफ बढ़ा है। संस्थान में 2012 से एक वर्ष छह महीने का कोर्स करवा रहा है। अभी तक संस्थान ने 602 युवाओं को प्रशिक्षित किया है। इस संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त युवा देश-विदेश के नामी होटलों में बेहतरीन सेवाएं दे रहे हैं। कैंपस प्लेसमेंट के जरिए भी युवाओं को रोजगार मुहैया करवाया जाता है। संस्थान में 2019-20 सत्र में फ्रट आफिस, फूड प्रोडक्शन, एफ एंड बी सर्विस, बेकरी और  हाउसकीपिंग में डिप्लोमा करवा रहा है। इन कोर्सों में दाखिला लेने पर युवाओं को कौशल विकास भत्ता और 100 प्रतिशत जॉब प्लेसमेंट दी जाती है। संस्थान की फीस अन्य निजी संस्थानों से बहुत कम हैं और शिक्षा क्वालिटी में भी बहुत अधिक अंतर है।

You might also like