बंजार में पागल कुतों का आतंक

 बंजार—गत एक माह से उपमंडल बंजार मुख्यालय में आवारा पागल कुतों के काटने से दर्जनों लोग अस्पताल पहुंच चुके हैं। लोगों को पागल कुते के काटने का सिलसिला पिछले एक माह से चल रहा है, लेकिन अभी तक इन कुतों को पकड़ने या मार गिराने के लिए बंजार प्रशासन द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया है। नगर पंचायत बंजार द्वारा प्रशासन को बार-बार इस विषय मंे सूचित किया जा रहा है, लेकिन अभी तक कोई भी प्रशासनिक कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई है। यहां बता दें कि बुधवार को भी बंजार मुख्यालय में दो लोग इन पागल कुतों का शिकार हुए हंै, जिससे बंजार के लोग दहशत में है। ये कुते लोगों को काटने के बाद एकदम से भागखड़े होते हैं तथा ढूढंने पर भी नहीं मिलते।  स्थानिय लोगों में राजेंद्र ठाकुर, सूरज, राकेश कुमार आदि का कहना है कि बंजार मुख्यालय मंे लोगो की आवाजाही भारी संख्या में रहती है। इसके अलावा बंजार मंे राजकीय पाठशाला के अलावा छह निजी स्कूल भी हैं, जिनमंे छात्रों की भारी संख्या हैं। ऐसे मंे इन पागल कुतों का इस तरह से खुले मे घूमना इन बच्चों तथा बंजार आने वाले ग्रामीणों तथा स्थानीय नागरिकों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है, लेकिन प्रशासन इस मामले में जिस तरह से ढिल बरत रहा है उससे स्थानिय लोग तथा ग्रामीण गहरी चिंता मंे है। इन लोगों ने बंजार प्रशासन से मांग कि है कि इन कुतों को पकड़ने का शीघ्र प्रबंध किया जाए।

You might also like