बचपन बचाने वाले मकलोडगंज में

धर्मशाला। ‘बचपन बचाओ’ आंदोलन के जन्मदाता और नॉबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी इन दिनों प्रदेश की खूबसूरत वादियों धर्मशाला के शहर मकलोडगंज पहुंचे हुए हैं। वह धर्मगुरु दलाईलामा से मुलाकात के लिए यहां पहुंचे हैं। धर्मगुरु दलाईलामा से मिलने पहुंचे कैलाश सत्यार्थी ने सोमवार की सुबह धर्मगुरु दलाईलामा से मुलाकात की और देश और दुनिया के कई अहम मुद्दों पर चर्चा भी की। वहीं, कैलाश सत्यार्थी धर्मगुरु से मिलकर जब वापस आ रहे थे, तभी वह सड़क पर काम करने वाली औरत के एक छोटे से बच्चे के पास गए और उसे प्यार से दुलारा।

You might also like