बच्चों के स्कूल का समय घटाया जाए

पांवटा साहिब – पांवटा साहिब में दिनोंदिन बढ़ रही गर्मी से अभिभावक अपने बच्चों के लिए चिंतित होने शुरू हो गए हैं। यहां पर पिछले तीन-चार दिनों से तापमान 40 डिग्री से ऊपर ही चल रहा है जिससे अभिभावकों की अपने छोटे बच्चों के लिए चिंता बढ़ने लगी है। जानकारी के मुताबिक पांवटा साहिब में भी प्रदेश के अन्य स्थानों की तरह स्कूल की टाइमिंग सुबह नौ बजे से सायं तीन बजे तक है, लेकिन बढ़ती गर्मी के कारण बच्चों को स्कूल में तीन बजाने मुश्किल हो रहे हैं। कई स्कूलों में पीने के पानी की भी दिक्कतें हैं तथा बच्चे गर्मी के कारण डिहाइड्रेशन का भी शिकार हो रहे हैं। कई बच्चों को चक्कर आने की भी सूचना है। नगर के अभिभावक अंजलि, सुनीता, अनीता, ममता, सुरेखा, जितेंद्र, हरजीत आदि ने बताया कि प्रदेश शिक्षा विभाग को गर्मी के मौसम में विशेषकर प्राथमिक स्कूलों में स्कूल के समय में कुछ कटौती करनी चाहिए, जिस प्रकार गर्मियों में हर साल ऊना व कांगड़ा के गर्म इलाकों में गर्मी के मौसम में प्राइमरी स्कूलों में स्कूलों की छुट्टी का समय तीन के वजाय दो बजे किया जाता है। उसी प्रकार पांवटा में विशेषकर प्राइमरी स्कूलों में छुट्टी दो बजे करवाई जानी चाहिए, ताकि बच्चे लू लगती गर्मी से बच सके। अभिभावकों ने मांग की है कि पांवटा में विभाग द्वारा यह व्यवस्था जल्द लागू करें। वहीं हिमाचल प्रदेश विज्ञानाध्यापक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय शर्मा, कोषाध्यक्ष राजकुमार पराशर, जिलाध्यक्ष मोहन लाल शर्मा आदि ने भी जिला प्रशासन से मांग की है कि ऊना व कांगड़ा के तर्ज पर गर्मी का प्रकोप बढ़ने पर जिला के पांवटा, कालाअंब, ददाहू, सतौन आदि गर्मी से प्रभावित स्कूलों में समय की कटौती की जाए, ताकि बच्चे गर्मी से बच सके।

 

You might also like