बल्ह विधानसभा क्षेत्र में फिर भाजपा की बल्ले-बल्ले

नेरचौक—इस बार के लोकसभा चुनावों मंे ंभी मंडी संसदीय सीट के बल्ह विधानसभा क्षेत्र मंे भाजपा की फिर बल्ले-बल्ले हुई है। 2004 से लेकर अब तक के लोकसभा चुनावों में बल्ह विधानसभा क्षेत्र ने अधिकांश बार भाजपा का साथ दिया है। 2017 के विधानसभा चुनावों में बल्ह मंे 12811 मतों की लीड लेने वाली भाजपा ने यहा अपनी बढ़त को तीन गुना के करीब करते हुए इस बार के लोकसभा चुनावों मे 33168 मतों की बड़ी बढ़त हासिल की है। 2004 से अब तक हुए पांच लोकसभा चुनावों मंे बल्ह ने चार चुनावों में भाजपा का साथ दिया है। 2004 के लोकसभा चुनावांे के समय प्रदेश मंे वीरभद्र सिंह की सरकार थी। इस बार मुकाबला कांगे्रस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह और भाजपा प्रत्याशी महेश्वर सिंह के बीच में था। इस चुनाव को प्रतिभा सिंह ने जीता लेकिन बल्ह विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी महेश्वर सिंह को 1577 मतों की बढ़त मिली। 2009 में हुए लोकसभा चुनावों मंे प्रदेश मंे सत्ता परिवर्तन हो चुका था और प्रदेश मंे भाजपा सरकार की कमान प्रेम कुमार धूमल के पास थी। इस बार मुकाबला भाजपा के महेश्वर सिंह और कांग्रेस के वीरभद्र सिंह के बीच में हुआ। इस चुनाव में दोनों प्रत्याशियों के बीच में कड़ा मुकाबला हुआ और अंतिम समय में बाजी 13997 मतों के अंतर से वीरभद्र सिंह के पक्ष में छूटी। इस बार भी बल्ह विधानसभा क्षेत्र भाजपा के साथ खड़ा रहा और यहां से भाजपा प्रत्याशी को 930 मतों की बढ़त मिली। 2012 मंे फिर प्रदेश मंे सता परिवर्तन हुआ और वीरभद्र सिंह प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। 2014 के लोकसभा चुनावों मंे फिर से कांग्रेस ने प्रतिभा सिंह को चुनाव मैदान में उतारा और भाजपा ने रामस्वरूप शर्मा को अपना कैंडीडेट बनाया। इन चुनावों में देश भर मंे चल रही मोदी लहर के बीच भाजपा प्रत्याशी रामस्वरूप शर्मा ने 39856 मतों से चुनाव जीता। इस बार बल्ह ने एक बार फिर भाजपा का साथ देते हुए भाजपा प्रत्याशी को 5252 मतों की बढ़त दी।

You might also like