बाबा हरदेव को भजनों से श्रद्धांजलि

कुल्लू —कुल्लू के गांधीनगर निरंकारी सत्संग भवन में गत सोमवार को समर्पण दिवस मनाया गया। इस अवसर पर बहुत से महात्माओं ने बारी-बारी सद्गुरु बाबा हरदेव सिंह को भजनों और विचारों द्वारा श्रद्धांजलि अर्पित की। बच्चों ने कविता द्वारा बाबा हरदेव सिंह को याद किया। इस अवसर पर संयोजक महात्मा बीआर रवि ने संगत को संबोधित करते हुए कहा कि सद्गुरु बाबा हरदेव सिंह का जीवन मानवता के लिए समर्पित था। आज सारा निरंकारी जगत इस दिन को समर्पण दिवस के रूप में मना रहा है। सत्संग विशेष रूप में आध्यात्मिक तथा सामाजिक कल्याण के लिए बाबा की अमूल्य देन को याद करते हुए उनकी शिक्षाओं को संसार के कोन-कोने तक पहुंचानेे के लिए अपने आप को पुनः समर्पित करेंगे, ताकि अज्ञानता के अंधकार को ब्रह्मज्ञान के प्रकाश द्वारा दूर किया जा सके। रवि ने कहा कि  वर्ष 1980 में जब बाबा ने सद्गुरु के रूप में मिशन की बागडोर संभाली, तो भारत के बाहर 17 देशों में मिशन की शाखाएं स्थापित हो चुकी  थीं, परंतु बाबा के प्रेम व अपनत्व के भावना से यह संख्या बढ़कर 60 हो गई। बाबा हरदेव  सिंह ने मिशन के युवा वर्ग को भी उत्साहित किया ताकि वह आगे आए। बाबा जी ने विशेष तौर पर  युवा वर्ग को समाज कल्याण  के कार्यों में अधिक  से अधिक योगदान देने के लिए प्रेरित किया।

You might also like