बिगड़ैल मौसम ने डराया चुनाव आयोग

जनजातीय क्षेत्रों को नहीं हो रही उड़ानें, रोहतांग टनल से जाएंगी पोलिंग पार्टियां

शिमला —हिमाचल में मतदान के लिए केंद्रीय चुनाव आयोग ने तीन हेलिकाप्टर तैनात किए हैं। मौसम के बिगड़े मिजाज ने जनजातीय क्षेत्रों की हवाई उड़ान रोक दी हैं। इसके चलते 19 मई को पांगी, डोडराक्वार और लाहुल-स्पीति में मतदान पर खतरे के बादल मंडरा गए हैं। मौसम विभाग का प्रदेश में 19 मई तक बारिश व बर्फबारी का पूर्वानुमान चुनाव आयोग को और ज्यादा डरा रहा है। लिहाजा चुनाव आयोग ने पांगी तथा लाहुल-स्पीति के लिए रोहतांग टनल एक बार फिर खोल दी है। जाहिर है कि इससे पहले भी लाहुल के लिए पोलिंग पार्टियों को रोहतांग टनल से केलांग भेजा गया था। चूंकि अब लाहुल-स्पीति के दुर्गम क्षेत्रों, चंबा के पांगी उपमंडल, कांगड़ा के बड़ा भंगाल तथा डोडराक्वार में चौपर से पोलिंग पार्टियां रवाना होनी थी। इसके लिए चुनाव आयोग 11 मई 2019 से लगातार प्रयास कर रही है। कई बार हेलिकाप्टर की पांगी के लिए उड़ान भरी गई है, लेकिन हवा का दबाव कम होने के कारण साचपास को चौपर क्रॉस नहीं कर पा रहा है। तीन बार के प्रयासों के बाद अब केंद्रीय चुनाव आयोग का हेलिकाप्टर खड़ा हो गया है।  इस कारण चुनाव आयोग ने बीआरओ को रोहतांग टनल खोलने के आदेश जारी किए हैं। पुख्ता सूचना के अनुसार अब पांगी सब डिवीजन के लिए सड़क मार्ग से पोलिंग पार्टियां भेजी जा रही है। मतदान की सामग्री भी सड़क मार्ग से भेजने का प्रयास है। इसके अलावा केलांग, डोडरा क्वार तथा बड़ा भंगाल के लिए 15 मई को दोबारा उड़ानों का प्रयास किया जा रहा है। मौसम विभाग ने 19 मई तक ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश व बर्फबारी की संभावना व्यक्त की है। लिहाजा मौसम विभाग का पूर्वानुमान चुनाव आयोग के लिए परेशानी का सबब बन गया है।

You might also like