बीपीएल से नहीं ली जाएगी प्रीमियम राशि

बिलासपुर – बिलासपुर क्षेत्रीय अस्पताल में कार्यरत मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. प्रकाश चंद दड़ोच ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा लोगों को निःशुल्क उपचार उपलब्ध करवाने के लिए हिमाचल हैल्थ केयर योजना आरंभ की गई है। इसके लिए पात्र परिवारों के पंजीकरण को पोर्टल सुविधा 20 जून तक खुली रहेगी। उन्होंने जिला के सभी पात्र परिवारों से अनुरोध किया है वे इस योजना का लाभ उठाने के लिए 20 जून तक अपना या अपने परिवार का पंजीकरण नजदीक के लोकमित्र केंद्र या कॉमन सर्विस सेंटर में करवाना सुनिश्चित कर लें। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत पंजीकृत परिवार का पांच लाख रुपए प्रति वर्ष तक का निःशुल्क उपचार पंजीकृत अस्पतालों में किया जाएगा। उन्होंने बताया कि एक परिवार के पांच सदस्यों के लिए एक कार्ड होगा तथा शेष बचे परिवार सदस्यों का पंजीकरण दूसरे कार्ड पर किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पूर्व में लागू की गई सभी स्वास्थ्य बीमा योजनाएं। इनमें मुख्यमंत्री राज्य स्वास्थ देखभाल योजना और यूनिवर्सल हैल्थ प्रोटेक्शन स्कीम इत्यादि को इस योजना के अंतर्गत अवशोषित कर दिया गया है लाभार्थी लागू निति अवधि के आधार पर इसका लाभ लेते रहेंगे। उन्होंने बताया कि योजना के लिए पात्रता को तीन श्रेणियों में बांटा गया है। उन्होंने बताया कि गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) और पंजीकृत रेहड़ी-फड़ी वाले (जो परिवार आयुष्मान भारत योजना में पंजीकृत नहीं है) इन परिवारों से कोई प्रीमियम राशि नहीं ली जाएगी। उन्होंने बताया कि एकल नारी 40 प्रतिशत से अधिक दिव्यांग, 70 वर्ष की आयु से अधिक वरिष्ठ नागरिक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा, मिड-डे मील कार्यकर्ता, दिहाड़ीदार, अशंकालीन तथा अनुबंध कर्मचारियों के लिए प्रीमियम राशि 365 रुपए प्रति कार्ड र्प्रति वर्ष निर्धारित की गई है। उन्होंने बताया कि आवश्यक दस्तावेजों में आधारकार्ड, राशनकार्ड, मोबाइल नंबर तथा विभिन्न श्रेणियों से संबंधित प्रमाण पत्र इत्यादि नवीनतम एक माह की अवधि के बीच मे बनवाया गया हो अनिवार्य है। उन्होंने विभाग मे कार्यरत समस्त अधिकारियों, कर्मचारियों तथा आशा कार्यकर्ता, जनप्रतिनिधियों, महिला एवं बाल विकास विभाग में कार्यरत समस्त अधिकारियों, कर्मचारियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवी संगठनों तथा समस्त जनता से अपील की है कि वे इस योजना को आम जनता तक पहुंचाने व पात्र परिवारों का पंजीकरण 20 जून 2019 से पहले करवाने के लिए व्यापक रूप से प्रचार प्रसार करें ताकि सभी पात्र परिवार इस योजना का लाभ उठाकर लाभान्वित हो सकें। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए नजदीक के स्वास्थ्य कर्मियों, आशा कार्यकर्ता, लोकमित्र केंद्र तथा कॉमन सर्विस सेंटर से संपर्क किया जा सकता है।

You might also like